16 दिन में 16 साल के सौरभ चौधरी ने भारत के लिए जीता दूसरा गोल्ड, विश्व रिकॉर्ड तोड़ा

नई दिल्ली: हाल ही में संपन्न हुआ एशियाई खेलों में गोल्ड मेडल जीतने वाले सौरभ चौधरी ने एक बार फिर कमाल का प्रदर्शन किया है. दरअसल 16 साल के इस भारतीय नौजवान ने 21 अगस्त को इंडोनेशिया के शूटिंग रेंज में अपने अचूक निशाने से देश के लिए एशियन गेम्स का गोल्ड मेडल जीता था. अब 16 दिन बाद सौरभ ने एक और गोल्डन निशाना लगाया है. इस बार उन्होंने ये कमाल दक्षिण कोरिया के चांगवोन में चल रहे 52वें आईएसएसएफ शूटिंग वर्ल्ड चैम्पियनशिप में 10 मीटर एयर पिस्टल जूनियर पुरुष स्पर्धा में गोल्ड मेडल जीता है. चैंग्वां में हो रही इस चैम्पियनशिप में सौरभ ने जूनियर वर्ग में विश्व रिकॉर्ड भी बनाया है.
16 वर्षीय सौरभ ने 581 के स्कोर के साथ तीसरे नंबर पर फाइनल में जगह बनाई। फाइनल सीरीज के शॉट में, जिससे गोल्ड मेडलिस्ट का निर्णय होना था, उसमें सौरभ ने अपने कोरियाई प्रतिद्वंद्वी होजिन लिम से 3 अंक की बढ़त ली। फाइनल में 10 का एक शॉट मिस करने के बावजूद 245.5 अंकों के साथ जूनियर वर्ल्ड रिकॉर्ड भी तोड़ दिया।
भारत के ही अर्जुन चीमा ने फाइनल में 218 अंकों के साथ ब्रॉन्ज मेडल हासिल किया। उन्होंने 577 अंकों के साथ छठे नंबर पर फाइनल में जगह बनाई थी।
फाइनल में सौरभ चौधरी ने पांच शॉट की दूसरी सीरीज से लीड ले ली, जो निर्णायक साबित हुई। इसके बाद उन्होंने पीछे मुड़कर नहीं देखा।
एक वक्त तो ऐसा लग रहा था कि भारत गोल्ड और सिल्वर मेडल दोनों पर कब्जा जमा लेगा। क्योंकि दूसरे एलिमिनेशन राउंड के बाद चीमा दूसरे नंबर पर थे। लेकिन पांचवें एलिमिनेशन सीरीज में 8.3 और 9.4 के निशाने के साथ वे तीसरे नंबर पर खिसक गए। हालांकि भारत की झोली में दो मेडल आए, लेकिन चीमा सिल्वर मेडल से चूक गए और उन्हें कांस्य से संतोष करना पड़ा।
Web Title : 16-year-old Saurabh Chaudhary won the second gold for India