DUSU चुनाव में ABVP का डंका; तीन पदों पर किया कब्जा, NSUI को मिला सिर्फ सचिव पद

नई दिल्ली: दिल्ली विश्वविद्यालय छात्र संघ (डूसू) चुनाव के नतीजे आ चुके हैं। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषण (एबीवीपी) के खाते में अध्‍यक्ष पद समेत तीन पद आए हैं। वहीं, एनएसयूआई के खाते में सचिव का पद आया है। वहीं आम आदमी पार्टी की छात्र इकाई और लेफ्ट के गठबंधन को कोई सीट नहीं मिली है। 

चुनाव में 3 पदों पर ABVP और एक पद पर NSUI का कब्जा

अध्यक्ष पद पर अंकिव बसोया विजयी रहे जबकि उपाध्यक्ष पद पर शक्ति सिंह और संयुक्त सचिव पद पर ज्योति चौधरी जीतीं। वहीं, सचिव पद पर एनएसयूआई के आकाश चौधरी ने जीत हासिल की है। एबीवीपी की अंकिव बसोया ने 1744 मतों के अंतर से अध्यक्ष पद पर जीत हासिल की है।

इसी संगठन के शक्ति सिंह को उपाध्यक्ष घोषित किया गया है। उन्होंने 7673 मतों के अंतर से जीत हासिल की है। एनएसयूआई के आकाश चौधरी सचिव पद पर जीतने में कामयाब रहे वहीं संयुक्त सचिव पद एबीवीपी की ज्योति को मिला है।

अमित शाह ने चुनाव में जीत पर एबीवीपी को दी बधाई

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने दिल्ली विश्वविद्यालय छात्र संघ के चुनाव में एबीवीपी की जीत को राष्ट्रवादी विचारधारा में युवाओं के विश्वास की जीत बताया और इसे विभाजनकारी और अवसरवादी राजनीति के खिलाफ मिला जनादेश बताया। बीजेपी अध्‍यक्ष अमित शाह ने भी चुनाव में जीत पर एबीवीपी को बधाई देते हुए ट्वीट किया।

ईवीएम में गड़बड़ी के बाद रोकी गई मतगणना

गुरुवार को ‘ईवीएम मशीनों में गड़बड़ी’ होने पर मतगणना रुक गई थी और संगठनों ने हंगामा किया था। ईवीएम मशीनों में गड़बड़ी के बाद, कांग्रेस से जुड़े संगठन एनएसयूआई ने नए सिरे से चुनाव कराने की मांग की जबकि आरएसएस के छात्र संगठन एबीवीपी ने मतगणना फिर से शुरू कराने को कहा।

मतगणना फिर से शुरू करने पर बनी सहमति 

बाद में, सभी उम्मीदवारों ने मतगणना फिर से शुरू करने पर सहमति जताई। मतगणना रुकने से पहले, शुरुआती रुझान में कांग्रेस समर्थित एनएसयूआई अध्यक्ष पद पर बढ़त बनाए हुए थी जबकि एबीवीपी का उम्मीदवार उपाध्यक्ष पद पर आगे चल रहा था। गड़बड़ ईवीएम के आरोपों के बाद शुरू में मतगणना एक घंटे के लिए रुकी थी। हालांकि छात्रों द्वारा आपत्ति जताने के बाद चुनाव अधिकारियों ने मतगणना रोकने का फैसला किया।

दोनों समूहों के समर्थकों ने दिल्ली विश्वविद्यालय प्रशासन के खिलाफ की नारेबाजी 

डूसू चुनावों के लिए एक चुनाव अधिकारी ने कहा, ‘विस्तृत चर्चा के बाद, यह फैसला किया गया कि मतगणना फिर से शुरू होगी। इस पर सभी उम्मीदवार सहमत हो गए’। दोनों समूहों के समर्थकों ने दिल्ली विश्वविद्यालय प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की और मतगणना केन्द्र के अंदर हंगामा किया।

‘केन्द्र सरकार के इशारे पर कराए जा रहे हैं चुनाव’ 

एनएसयूआई के रॉकी तुसीद ने कहा, ‘केन्द्र सरकार के इशारे पर चुनाव कराए जा रहे हैं। ईवीएम से छेड़छाडछ़ की गई है। हम नए सिरे से चुनाव कराना चाहते हैं।’ उधर, एबीवीपी के शक्ति सिंह ने कहा, ‘केवल एक ईवीएम में गड़बड़ी थी और इसकी मरम्मत हो सकती है। हम चाहते हैं कि मतगणना फिर से शुरू हो। चूंकि हम सभी सीटों पर आगे चल रहे हैं, अन्य दल नए सिरे से चुनाव की मांग कर रहे हैं।’

Web Title : ABVP's Danka in DUSU election