उपचुनाव: कांग्रेस को लगा बड़ा झटका, चुनावी मैदान में कूदा ये बागी नेता

भीलवाडा: राजस्थान में 29 जनवरी को होने वाले उपचुनाव से पहले कांग्रेस का एक बागी नेता पार्टी का खेल बिगाड़ने मैदान में कूद गया है. मांडलगढ़ विधानसभा सीट से कांग्रेस नेता और पूर्व प्रधान गोपाल मालवीय भी मैदान में आ गए हैं. मालवीय ने आज निर्दलीय रूप में चुनाव लड़ने के लिए नामांकन भरने जिला कलक्ट्रेट पहुंचे. मालवीय के चुनावी मैदान में कूदने से मांडलगढ़ में मुकबाला और भी ज्यादा रोचक हो गया है, और माना जा रहा है कि इसका सबसे ज्यादा नुकसान कांग्रेस को ही उठाना पड़ सकता है.

जानकारी के अनुसार मांडलगढ़ से इस बार भाजपा ने ​भीलवाड़ा जिला प्रमुख शक्ति सिंह हाड़ा को उम्मीदवार बनाया है तो वहीं कांग्रेस ने 2013 का चुनाव हारने वाले विवेक धाकड़ पर एक बार फिर से दांव खेला है. मांडलगढ़ विधानसभा सीट से अब धाकड़, हाड़ा और मालवीय के बीच होने वाला त्रिकोणीय मुकाबला जातीय समीकरण पर निर्भर है जिसके रोचक होने की पूरी संभावना जताई जा रही है.

एक तो कांग्रेस ने पिछले चुनावों में हार का सामना करने वाले प्रत्याशी पर फिर से दांव खेला है, उपर से मालवीय के चुनाव लड़ने से यहां एक तरह से भाजपा को ही फायदा मिलने की उम्मीद जताई जा रही है. उल्लेखनीय है कि राजस्थान में दो लोकसभा और एक विधानसभा सीट पर होने वाले उपचुनावों को बीजेपी और कांग्रेस ने अागामी विधानसभा चुनाव से पहले का सेमीफाइनल मान लिया है और अपने-अपने प्रत्याशी के चयन से लेकर उसकी जीत सुनिश्चित करने के लिए सारी ताकत झौंक दी है.

Web Title : By-election: Congress felt a big setback