अशोक गहलोत बोले, अमित शाह के चक्कर में आ गए हनुमान बेनिवाल

पाली में एक दिन पूर्व सभा में बोले थे गहलोत, कहा हनुमान बेनिवाल नागौर सीट के लिए अड़ गए, इसलिए कांग्रेस में नहीं आ पाए। उन्हें कांग्रेस के साथ आना चाहिए था

पाली में एक दिन पूर्व सभा में बोले थे गहलोत, कहा हनुमान बेनिवाल नागौर सीट के लिए अड़ गए, इसलिए कांग्रेस में नहीं आ पाए। उन्हें कांग्रेस के साथ आना चाहिए था

खोज खबर
पाली. हनुमान बेनिवाल युवा किसान नेता है। उन्हें कांग्रेस के साथ आना चाहिए था, ताकि किसानों का भला होता। परन्तु वे अमित शाह के चक्कर में आ गए। यह कहना है प्रदेश के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का। गहलोत ने यह बात पाली संसदीय क्षेत्र में प्रत्याशी बद्रीराम जाखड़ के समर्थन में आयोजित सभा को सम्बोधित करते हुए कही।
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत मंगलवार को पाली संसदीय क्षेत्र पहुंचे। उन्होंने जनता से कांग्रेस के प्रत्याशी बद्रीराम जाखड़ के लिए समर्थन मांगा। उन्होंने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि पिछले विधानसभा चुनाव में भोपालगढ़ सीट से हमारा प्रत्याशी चुनाव हार गया था। वहां से बोतल चुनाव जीत गई थी। लेकिन अब बोतल गायब हो गई है क्योंकि बोतल ने बीजेपी से समझौता कर लिया है। मुख्यमंत्री ने जिले के बावड़ी कस्बे में आयोजित सभा को संबोधित करते हुए कहा कि हमारी बात हुई थी बेनीवाल से । युवा नेता है किसान कौम से आते हैं लेकिन वे नागौर को लेकर अड़े रहे। मैंने उनसे कहा था कि भाईचारा रखो। ज्योति मिर्धा और आप में भाईचारा होना चाहिए ना कि दुश्मनी। अशोक गहलोत ने कहा कि बेनीवाल खुद किसान हैं और किसान कौम से आते हैं। ऐसे में उन्हें कांग्रेस के साथ आना चाहिए था जिससे किसानों का कल्याण होता। लेकिन वे अमित शाह के चक्कर में आ गए और भाजपा से समझौता कर लिया। गहलोत ने कहा कि अमित शाह और नरेंद्र मोदी दो आदमी ही देश को चला रहे हैं। बाकी सब गौण हो गए हैं। उन्होंने लोगों से अपील की कि वे कांग्रेस के समर्थन में मतदान करें, जिससे राहुल गांधी को प्रधानमंत्री बनाया जाए और देश के हर वर्ग के हित की रक्षा हो सके।

Web Title : ashok gehlot on hanuman beniwal and amit shah at pali about join BJP