परिवार के बच्चें अब घर के अनपढ़ बुजुर्गों को पढ़ाएंगे, सरकार बना रही बड़ी योजना

जयपुर: केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री प्रकाश जावडे़कर ने कहा कि केन्द्र सरकार परिवार के छोटे बच्चों द्वारा अपने अनपढ़ बुजुर्गों को शिक्षित किए जाने की योजना पर काम कर रही है। प्रकाश जावडे़कर ने बताया कि परिवार में अपने अनपढ़ दादा दादी को शिक्षित करने के लिये बच्चों को सामग्री उपलब्ध करवाई जायेगी।

प्रकाश जावडे़कर ने रविवार को झालाना कच्ची बस्ती में लोगों से संवाद करने के दौरान संवाददाताओं को बताया कि योजना को लागू करने के लिये तैयारियां चल रही हैं और आगामी दो महीनों में यह योजना शुरू की जायेगी। इसके लिये हम सामग्री उपलब्ध करायेंगे। जावडेकर ने कहा कि आज मैने बच्चों से बातचीत की है और उन्हें अपने बुजुर्ग परिजनों को इस तरह से शिक्षित करने को कहा है। उन्होंने कहा कि इस बारे में विस्तृत जानकारी योजना की औपचारिक शुरूआत के समय उपलब्ध करवाई जायेगी।

राजस्थान के चुनाव प्रभारी जावडे़कर ने लोगों से बातचीत कर सरकार के कार्यों के बारे में उनकी राय जानी और उनका फीडबैक लिया। जावडे़कर ने आज लाभार्थियों और बच्चों सहित उनके परिजनों से सरकारी योजनाओं के बारे में बातचीत की और बच्चों को अपने अनपढ़ बुजुर्गों को शिक्षित करने को कहा। जावडेकर ने लाभार्थियों के घर चाय पी और खाना भी खाया। इस अवसर पर राजस्थान के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री कालीचरण सराफ, जयपुर के महापौर अशोक लाहोटी और पार्टी के अन्य नेता भी मौजूद थे।

Web Title : Children of the family will now teach the illiterate elderly, the government is planning a big plan