CWG में Saturday बना ‘Gold-day’, मैरी कॉम, संजीव राजपूत और गौरव सोलंकी के बाद पहलवान सुमित ने जीता गोल्ड

नई दिल्ली: भारत के अलग-अलग प्रांतों में जब शनिवार को वैशाखी, विशु, रोंगाली बिहू, नव वर्ष, वैशाखी, पुतांदु पिरापु का उत्सव मनाया जा रहा था, ऑस्ट्रेलिया में हमारे खिलाड़ी सोने की बारिश कर रहे थे. सुबह-सुबह सुपर मॉम मैरी कोम ने 45 किलो वर्ग में गोल्डेन पंच जमाया, तो पहलवान सुमित मलिक ने पुरुषों के 125 किलो फ्रीस्टाइल वर्ग में, गौरव सोलंकी ने मुक्केबाजी के 52 किलो वर्ग में और संजीव राजपूत ने 50 मीटर राइफल थ्री पोजिशंस में खेलों में रिकाॅर्ड के साथ स्वर्ण पदक जीता.

ऑस्‍ट्रेलिया में चल रहे 21वें राष्ट्रमंडल खेलों के 10वें दिन शनिवार को भारत ने चार गोल्‍ड मेडल जीतकर पदक सूची में 48 मेडल जीत लिए हैं. नीरज चोपड़ा ने जेवलीन थ्रो में गोल्ड जीता. इसके साथ ही भारत के मेडलों की संख्या 48 हो गई है.
कुश्ती में भारतीय पहलवान सुमित मलिक ने जीता स्वर्ण

भारतीय पहलवान सुमित मलिक ने राष्ट्रमंडल खेलों में पुरुषों के 125 किलो फ्रीस्टाइल वर्ग में स्वर्ण जीता क्योंकि उनके प्रतिद्वंद्वी नाइजीरिया के सिनिवी बोल्टिक चोट के कारण मुकाबले में उतर नहीं सके। सुमित ने पाकिस्तान के तैयब रजा को 10.4 से हराया था। सुमति ने शुरूआत में बढत बना ली थी लेकिन रजा ने वापसी करते हुए अंतर 2.3 का कर दिया।सुमित ने हालांकि इसके बाद उसे वापसी का मौका नहीं दिया। जवाबी हमलों की बरसात करके उसने जीत दर्ज की।  इससे पहले उसने कनाडा के कोरे जारविस को हराया था। शुरूआत में 0.2 से पीछे चल रहे सुमित ने 3.3 से बराबरी की। इसके बाद आखिरी क्षणों में दबाव बनाकर 6.4 से जीत दर्ज की।

Mary Kom

सुबह- सुबह मैरीकॉम ने दिलाया पहला गोल्‍ड CWG 2018: मुक्केबाजी में मैरी कॉम ने जीता गोल्ड, भारत के नाम एक और स्वर्णमैरीकॉम ने शानदार प्रदर्शन करते हुए 45-48 किग्री कैटेगरी में गोल्ड मेडल जीतकर भारत को यह सफलता दिलाई है. पांच बार की वर्ल्ड चैंपियन 35 साल की मैरीकोम ने महिलाओं के 48 किलो फाइनल मुकाबले में उत्तरी आयरलैंड की क्रिस्टीना ओहारा को 5.0 से हराया. ओहारा के पास मेरीकोम के दमदार पंच और फिटनेस का जवाब नहीं था. मेरीकोम ने मुकाबले को लगभग एकतरफा बना दिया. पांच महीने पहले एशियाई चैम्पियनशिप में स्वर्ण जीतने वाली मेरीकोम ने जनवरी में इंडिया ओपन जीता था. उन्होंने बुल्गारिया में स्ट्रांजा मेमोरियल टूर्नामेंट में भी रजत पदक जीता था. ओलंपिक ब्रॉन्ज विजेता मैरीकॉम ने शुरू से ही मैच में पकड़ बनाए रखा. बता दें कि वह इससे पहले कॉमनवेल्थ गेम्स में कभी कोई पदक नहीं जीत पाई थीं.

गौरव सोलंकी मुक्‍केबाजी ने जीता गोल्‍ड मेडलGaurav Solanki- Khabar IndiaTVभारत के मुक्केबाज गौरव सोलंकी ने 21वें राष्ट्रमंडल खेलों के 10वें दिन शनिवार को मुक्केबाजी में दूसरा स्वर्ण पदक दिलाया है. गौरव ने पुरुषों की 52 किलोग्राम भारवर्ग स्पर्धा के फाइनल में उत्तरी आयरलैंड के ब्रेंडन इरवाइन को 4-1 से मात देते हुए सोने का तमगा हासिल किया. गौरव का यह राष्ट्रमंडल खेलों में पहला पदक है. पहले राउंड में गौरव पूरी तरह से हावी रहे. उन्होंने अपने बाएं जैब से अच्छे अंक जुटाए और इरवाइन को परेशान किया. दूसरे राउंड में गौरव और ज्यादा आक्रामक हो गए और उन्होंने लगातार पंच मारते हुए इरवाइन पर दबाव बनाए रखा. इस राउंड में जैब के अलावा गौरव ने कुछ अच्छे अपरकट का इस्तेमाल भी किया. इरवाइन काउंटर तो कर रहे थे, लेकिन ज्यादा सफल नहीं हो पा रहे थे. आखिरी राउंड में गौरव ने और बेहतर प्रदर्शन किया और इरवाइन को आक्रमण नहीं करने दिया.

संजीव राजपूत ने का गोल्‍डन निशानाऑस्‍ट्रेलिया में चल रहे 21वें राष्ट्रमंडल खेलों के 10वें दिन शनिवार को भारत को तीसरा गोल्‍ड मेडल शूटर संजीव राजपूत ने दिलाया. उन्‍होंने पुरुषों की 50 मीटर की राइफल 3 पोजिशन में जीता स्‍वर्ण पदक जीता है. उन्‍होंने रिकॉर्ड स्‍कोर 454.4 के साथ ये मेडल जीता है.

मुक्केबाजी में गोल्‍ड से चूके अमित, रजत से करना पड़ा संतोष
भारत के मुक्केबाज अमित पंघाल को यहां जारी 21वें राष्ट्रमंडल खेलों में 46-49 किलोग्राम भारवर्ग स्पर्धा के फाइनल में हार कर रजत पदक से संतोष करना पड़ा है. अमित को इंग्लैंड के गलाल याफाई को 3-1 से मात देते हुए उनके स्वर्ण के सपने को तोड़ दिया. अमित फाइनल में अच्छा मुकाबला कर रहे थे, लेकिन वह याफाई के आक्रामण के आगे कमजोर पड़ते जा रहे थे. पहले राउंड में अमित हावी थे, लेकिन अगले दो राउंड में वह धीरे-धीरे पिछड़ते चले गए. पांच रेफरियों में एक ने दोनों को बराबर अंक दिए और इसलिए फैसला 3-1 रहा.

Web Title : CWG 2018: India's medal tally rises to 47