2019 में भाजपा से चुनाव में लड़ेंगे क्रिकेटर धोनी-गंभीर, अटकलें तेज

नई दिल्‍ली: मिस्टर कूल के नाम से मशहूर क्रिकेट के सुपरस्टार महेंद्र सिंह धौनी क्रिकेट के बाद राजनीति में हाथ आजमाएंगे। धौनी के भाजपा के टिकट पर चुनाव लडऩे की चर्चा राजनीतिक गलियारों में गर्म है। कहां से चुनाव लड़ेंगे इसके भी अलग-अलग कयास। हालांकि धौनी के करीबी लोगों का मानना है कि अभी उनका राजनीति में आने की बात कहना जल्दबाजी होगी। अभी माही का पूरा ध्यान विश्वकप पर है। उसके बाद वह क्या निर्णय लेंगे, यह अभी बताया नहीं जा सकता। इधर, प्रदेश भाजपा को भी इस बारे में कोई खबर नहीं है।MS Dhoni and Gautam Gambhir will starts new inning of politics in 2019 elections

खबरों के अनुसार धौनी के साथ साथ गौतम गंभीर के भी भाजपा के पाले में आने की बात कही गई है। गौतम गंभीर दिल्ली से व धौनी झारखंड की किसी भी सीट से संसदीय चुनाव में उतर सकते हैं। इसके साथ ही भाजपा ने दोनों क्रिकेटरों को चुनाव में स्टार प्रचारक की सूची में रखने का निर्णय लिया है।

विश्व कप के पहले राजनीति नहीं

रांची विवि के पूर्व खेल निदेशक व धौनी के करीबी माने जाने वाले जय कुमार सिन्हा ने बताया कि वेस्टइंडीज सीरीज खेलने जाने से पहले माही ने स्पष्ट कहा था कि अभी उसका पूरा ध्यान विश्व कप पर है। इसके अलावा वह अन्य किसी भी चीज के संबंध में नहीं सोच रहे हैं। माही रांची प्रवास के दौरान जय कुमार सिन्हा के साथ अक्सर बिलियड्स खेलते हैं।

जय ने कहा कि क्रिकेट के बाद भी वह राजनीति में आएगा यह कहना जल्दबाजी होगी। क्रिकेट उसका पहला प्यार है और क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद उसके लिए कोच, कमेंटेटर, चयनकर्ता बनने का रास्ता खुला है। क्रिकेट प्रशिक्षक चंचल भट्टाचार्य ने भी कहा कि अभी उसका लक्ष्य 2019 विश्व कप है। विश्व कप के बाद वह क्या करेगा इसका निर्णय भी वही लेगा। अपने निर्णय से धौनी कई बार लोगों को चौका चुके हैं। मैदान में कप्तानी के दौरान कई ऐसे निर्णय उन्होंने लिए हैं जो दूसरा सोच नहीं सकता। टेस्ट कप्तानी छोडऩे का निर्णय भी माही ने अचानक लिया था। उसके इस निर्णय की जानकारी टीम के सदस्यों को नहीं थी। वनडे व टी-20 की कप्तानी भी उन्होंने अचानक छोड़ी। इसलिए राजनीति गलियारा में यह चर्चा है कि धौनी कब राजनीति की पारी शुरू कर देंगे यह बताना मुश्किल है। इसलिए इस खबर को राजनीतिक गलियारे में हल्के में नहीं लिया जा रहा है।

लोकप्रिय हैं गौतम

गौतम गंभीर दिल्ली संसदीय क्षेत्र के राजेंद्र नगर के रहने वाले हैं। लोगों में काफी लोकप्रिय भी हैं। अपने सामाजिक कार्यों के कारण भी लोग गौतम को पसंद करते हैं। वे दिल्‍ली के रहने वाले हैं, इसलिए दिल्‍ली के लिए अच्‍छा काम करेंगे।

धौनी कहीं से भी

धौनी झारखंड के किसी सीट से चुनाव लड़ सकते हैं। धौनी को लोग झारखंड के राजकुमार के रूप में जानते हैं। झारखंड ही नहीं देश-विदेशों में भी धौनी लोकप्रिय हैं। धौनी झारखंड से हैं, इसलिए पार्टी चाहती है कि वे झारखंड से ही भाजपा की सीट पर चुनाव लड़ें। भाजपा धौनी और गंभीर को 2019 के लोकसभा चुनाव में स्‍टार प्रचारक बनाना चाह रही है।

गजब की है लोकप्रियता

धौनी की लोकप्रियता गजब की है। उनके कहीं भी आने की खबर सुनने पर घंटो पहले उस जगह पर पहुंच जाते हैं। उनकी एक झलक पाने को बेताब रहते हैं। कई बार से कार्यक्रम के दौरान फैंस के हुजूम में फंस चुके हैं। वहां उसे उन्‍हें पुलिस के सहारे बाहर निकलना पड़ा है।

कुमार विश्‍वास संपर्क में

आप नेता सह कवि कुमार विश्‍वास भी भाजपा के संपर्क में हैं। वे वर्ष 2019 लोकसभा चुनाव से पहले भाजपा में शामिल हो सकते हैं। पार्टी उन्‍हें उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद लोकसभा सीट से उन्‍हें चुनाव लड़ाना चाहती है। इस सीट से वर्तमान में जनरल (रिटायर्ड) वीके सिंह सांसद हैं।  इस बार उन्‍होंने चुनाव नहीं लड़ने की इच्‍छा जतायी है।

Web Title : Dhoni-Gambhir cricketer to contest from BJP in 2019