वाराणसी में निर्माणाधीन फलाईओवर का हिस्सा गिरा; 20 लोगों की मौत, राष्ट्रपति कोविंद और PM मोदी ने जताया दुख

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में मंगलवार शाम को बड़ा हादसा हुआ है। कैंट रेलवे स्टेशन के पास  निर्माणाधीन पुल का एक बड़ा हिस्सा गिर गया। इसकी चपेट में कई वाहन आ गए। जिससे मौके पर चीख-पुकार और अफरा तफरी मच गई। हादसे में 20 से ज्यादा लोगों की मौत की खबर है।

अभी 50 से ज्यादा लोगों के दबे होने की आशंका है। 18 शवों को निकाला जा चुका है। इसके साथ ही मृतकों की संख्‍या में वृद्धि होने की आशंका जताई जा रही है। ओवरब्रिज का पिलर गिरने के बाद चीख पुकार मच गई और अफरातफरी की स्थिति मौके पर बन गई।

इस दौरान भागादौड़ी और जान बचाने की कोशिश में कई लोग इस दौरान गिरकर घायल भी हो गए। काफी भीड़ भरे क्षेत्र में अचानक हुए इस हादसे में भगदड़ मचने के बाद मौके पर पुलिस कर्मियों ने मोर्चा संभाला और लोगों को सुरक्षित करने के प्रयास में जुट गए। हादसे की गंभीरता को देखते हुए स्थानीय नागरिक भी सहयोग में आगे आए और ओवरब्रिज गिरने के बाद नीचे फंसे वाहन और उसमें मौजूद लोगों को बचाने की कोशिश करने लगे।

हालांकि नीचे दर्जनों लोगों के फंसे होने की सूचना के बाद उनको बचाने की कोशिश की जा रही है मगर कई के मरने का अंदेशा भी स्थानीय लोगों की ओर से जतायी गई है। भीड़ भरा इलाका होने की वजह से प्रशासन भी लोगों को बचाने के लिए मौके पर पहुंच रहा है साथ ही आपदा राहत बल को भी सूचना दे दी गई है।

वहीं इस दौरान यातायात भी दोनों तरफ का बाधित हो गया तो काफी लंबी दूरी तक जाम की स्थिति भी बन गई। लोगों को बचाने के साथ ही पुलिस यातायात को सुचारु रूप से संचालित करने में व्यस्त हो गई। पुलिस प्रशासन मौके पर पहुंचकर राहत और बचाव कार्य में जुट गई। सपा शासनकाल से बनना शुरु हुआ यह ओवर ब्रिज चौकाघाट स्थित बस स्टैंड से लहरतारा तक विस्तार किया जा रहा था।

योगी आदित्यनाथ ने किया मुआवजे का ऐलान-

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस घटना के जांच के लिए एक कमेटी का गठन किया है जो अगले 48 घंटो के अंदर रिपोर्ट सौपेंगी। सीएम ने मृतकों को 5 लाख रुपए की सहायता और गंभीर रुप से घायलों को 2 लाख रुपए की सहायता की घोषणा की है।

Web Title : Dropped part of the flyover in Varanasi