पूर्व विधायक नारायणराम बेड़ा थाम सकते हैं कांग्रेस का दामन, लंबे समय से हैं भाजपा से नाराज

जोधपुर/भोपालगढ़। क्षेत्र के पूर्व विधायक एवं भाजपा के पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष नारायणराम बेड़ा के शीघ्र ही कांग्रेस का दामन थामने की चचार्एं क्षेत्र भर में जोरों से चल रही है। साथ ही उनके करीबी सूत्रों का दावा है कि वे नवरात्रि के दिनों में ही कांग्रेस की सदस्यता ले सकते हैं और इस को लेकर पिछले कई दिनों से दिल्ली में डेरा डाले हुए हैं। जहां उनका कांग्रेस के प्रदेश एवं राष्ट्रीय स्तर के कई बड़े नेताओं से संपर्क भी हुआ है।

गौरतलब है कि क्षेत्र के पूर्व विधायक एवं भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष रहे नारायणराम बेड़ा किसी जमाने में मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के खास सिपहसालारों में गिने जाते थे और विधानसभा चुनाव हारने के बावजूद राजे ने उन्हें पार्टी संगठन में प्रदेश उपाध्यक्ष की अहम जिम्मेदारी सौंपी थी। साथ ही मारवाड़ की राजनीति में भी उनको खास तरजीह भी दी जाती थी। लेकिन इसके कुछ समय बाद बेड़ा और राजे के संबंधों में खटास पडऩी शुरू हो गई और धीरे-धीरे बेड़ा ने न केवल मुख्यमंत्री राजे से बल्कि भाजपा से ही मुंह मोडऩा शुरू कर दिया और वर्तमान सरकार के खिलाफ किसानों की पैरवी करते हुए कई आंदोलन कर सरकार को बगावती तेवर भी दिखाने शुरू कर दिए थे। इसके बाद से ही बेड़ा के कांग्रेस का दामन थामने की चचार्एं चलने लगी थी. लेकिन बीच-बीच में बेड़ा ने किसान नेता एवं खींवसर विधायक हनुमान बेनीवाल के साथ भी कई बार मंच साझा किए. तो लोगों को उनके बेनीवाल के साथ तीसरे मोर्चे में जाने की भी चचार्एं चली। लेकिन अब एक बार फिर से उनके कांग्रेस में जाने की चचार्ओं ने जोर पकड़ लिया है।

अब पूर्व विधायक बेड़ा के कांग्रेस में जाने की चचार्एं फिर से जोर पकडऩे लगी है और उनके पिछले सप्ताह भर से दिल्ली में डेरा डाले होने से इन चचार्ओं को और भी अधिक बल मिलने लगा है। यहां तक कि उनके करीबी सूत्रों का कहना है कि बेड़ा ने दिल्ली में पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत समेत प्रदेश व राष्ट्रीय स्तर के कई कांग्रेसी नेताओं से भी संपर्क हुआ है और वे नवरात्र के दिनों में ही कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण कर सकते हैं। साथ ही उनके कई दिनों से दिल्ली में डेरा डाले रहने से भी कस्बे सहित क्षेत्र के ग्रामीण इलाकों में उनके कांग्रेस का दामन थामने की चचार्एं पूरे जोर-शोर से चल रही है।

इस संबंध में पूर्व विधायक बेड़ा ने दिल्ली से दूरभाष पर बताया कि उनसे कांग्रेस के कई नेताओं ने संपर्क जरूर किया है और वे अभी अपने समर्थकों के साथ दिल्ली में है। वे पिछले लंबे समय से किसान हितों को लेकर आंदोलन कर रहे हैं और जो पार्टी किसानों के हितों का ध्यान रखेगी. वे उसी पार्टी के साथ जाएंगे।

पूर्व विधानसभा अध्यक्ष मदेरणा को हराया एक बार
राजस्थान के कांग्रेस के नेताओं में शुमार रहे भोपालगढ़ का प्रतिनिधित्व करने वाले पूर्व विधानसभा अध्यक्ष परसराम मदेरणा को नारायण राम बेड़ा ने 1985 के विधानसभा चुनाव में एक बार हराया था। जिसके बाद बेड़ा की प्रसिद्धि पूरे राजस्थान में हो गई थी।

Web Title : Former legislator Narayan Ram will be able to stand up to Congress