यहां पर राजनैतिक व प्रशासनिक क्षेत्र में महिलाओं का बोलबाला, राजनैतिक व प्रशासनिक पदों पर काबिज है नारी शक्ति

जोधपुर: जिले के भोपालगढ़ उपखंड क्षेत्र में वर्तमान में प्रमुख पदों पर नारी शक्ति कार्य कर रही है. यहा जनप्रतिनिधि से लेकर प्रशासनिक अधिकारी तक महिलाओं का बोलबाला कायम है. भोपालगढ़ क्षेत्र जो कभी दिग्गज किसान नेता परसराम मदेरणा का गढ़ माना जाता रहा, उन्होंने यहां से कई बार कांग्रेस के चुनाव चिन्ह पर विजय श्री का वरण विधानसभा में भोपालगढ का प्रतिनिधित्व किया. आज इसी क्षेत्र में नारी शक्ति का बोलबाला है.

यहीं पर एक महिला कमसा मेघवाल ने पहली बार भोपालगढ़ में कमल खिला कर कांग्रेस को शिकस्त दी और लगातार दो बार विधायक बनकर वर्तमान में जनजाति विकास राज्यमंत्री के रूप में सुशोभित हो रही है. इसके अलावा भोपालगढ़ में प्रमुख प्रशासनिक अधिकारी उपखंड मजिस्ट्रेट अभिलाषा चौधरी भी एक महिला है. जो अपनी दबंग छवि एवं कर्तव्य परायणता और कार्यकुशलता के लिए चंद दिनों में भोपालगढ़ क्षेत्र में अपनी पहचान बना चुकी है.

अब बात कानून एवं व्यवस्था की करें तो भोपालगढ़ में सरोज चौधरी आसोप चौकी में उप निरीक्षक के रूप में कार्यरत हैं. जिनकी धाक पूरे भोपालगढ़ क्षेत्र में मानी जाती है. कितना भी पेचीदा केस हो उसे सुलझाने में हमेशा सरोज चौधरी का अहम रोल रहता है. इसके साथ ही जन जुड़ाव की दृष्टि से सरोज चौधरी एक मिलनसार, व्यवहार कुशल और जन हितेषी लोकप्रिय पुलिस अधिकारी मानी जाती है.

भोपालगढ़ की महिला राज की सूची में एक नाम और जुड़ता है. अंजू कच्छावाहा का जो राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय में प्रधानाचार्य के रूप में कार्यरत है और अपनी स्वच्छ छवि और कर्मठता के लिए छात्राओं और शिक्षकों के बीच बहुत लोकप्रिय है. भोपालगढ सरपंच जमना देवड़ा एवं पंचायत समिति सदस्य शांतिदेवी जाखड़ भी महिलाएँ है.
क्या कहते कर्मचारी नेता-भोपालगढ क्षेत्र में महिलाओं के विभिन्न पदों पर कार्य करने से महिला वर्ग को अपने काम करवाने में हर जगह आसानी रहती है. उसे प्रशासनिक काम हो या जनप्रतिनिधियों से मुलाकात करना हो वह बेहिचक जाकर उनसे मुलाकात कर सकती है.
गिरधारीराम गर्ग,(कर्मचारी नेता)

Web Title : Here in the political and administrative areas, women are dominated.