अब बीएड प्रशिक्षणार्थियों को इंटर्नशिप के लिए नहीं जाना होगा 200 किलोमीटर दूर

जयपुर: राजस्थान के बीएड प्रशिक्षणार्थियों को इंटर्नशिप के लिए अब स्कूल आवंटन को लेकर शिक्षा मंत्री ने नए दिशा निर्देश जारी किए हैं. अब इच्छित स्कूलों में परिवेदना के आधार पर होगा स्कूल आवंटित होंगे.

बता दें कि जैसलमेर, बाड़मेर समेत कई जिलों में इंटर्नशिप के लिए 200 किलोमीटर दूर तक स्कूलों का आवंटन कर दिया गया था. इसको लेकर शुक्रवार को जैसलमेर में प्रशिक्षणार्थियों ने हंगामा भी किया था.

जानकारी के अनुसार राज्य सरकार ने बीएड प्रशिक्षणार्थियों को इंटर्नशिप करने के लिए राजकीय स्कूलों के आवंटन के संबंध में परिवेदनाओं पर निर्णय हेतु जिला स्तरीय समिति का गठन किया गया है. शिक्षा राज्य मंत्री वासुदेव देवनानी इस सबंध में परिवेदनाओं का निस्तारण आगामी 6 अक्टूबर तक आवश्यक रूप से करने के निर्देश दिए हैं.

शिक्षा राज्य मंत्री वासुदेव देवनानी ने बताया कि बीएड के प्रशिक्षणार्थियों को उनके द्वारा मांगी गयी प्रथम वरीयता के अनुसार उसी ब्लॉक एवं जिले में राजकीय स्कूलों का आवंटन किया गया है. परन्तु कई प्रशिक्षणार्थियों को असुविधाजनक स्कूल आवंटित हो जाने के कारण परिवेदनाऎं प्रस्तुत की जा रही है. उन्होंने कहा कि अभ्यर्थियों की वास्तविक कठिनाईयों और उनकी सुविधा को दृष्टिगत रखते हुए राज्य सरकार ने इच्छित स्कूलों में परिवेदनाओं के आधार पर स्कूल आवंटित करने का निर्णय लिया है.

उन्होंने बताया कि परिवेरनाओं के निस्तारण के लिए राज्य सरकार ने जिला स्तरीय समिति का गठन किया गया है. उन्होंने बताया कि इंटर्नशिप से संबंधित परिवेदनाओं के निस्तारण के लिए गठित जिला स्तरीय समिति के अंतर्गत संबंधित जिला शिक्षा अधिकारी प्रारंभिक प्रथम समिति का अध्यक्ष होगा तथा शैक्षिक प्रकोष्ठ अधिकारी/अति. ब्लॉक प्रारम्भिक शिक्षा अधिकारी (शैक्षिक प्रकोष्ठ), प्रारम्भिक शिक्षा प्रथम को सदस्य सचिव बनाया गया है.

Web Title : Internships do not have to go 200 kilometers away