भारत के 13 VVIPs के iPhone किए गए हैक ! खतरे में अहम डाटा

नई दिल्ली: भारत के 13 अतिविशिष्ट लोगों (VVIPs) के iPhone में malware के जरिए सेंध लगाए जाने की आशंका है। ऐसा माना जा रहा है कि उनके iPhone में से मेसेज, वॉट्सऐप, लोकेशन, चैट लॉग, तस्वीर और कॉन्टैक्ट्स जैसी जानकारियां भी चुराई गईं हैं। हालांकि अबतक इन 13 लोगों की पहचान नहीं हो पाई है। कमर्शल थ्रेट इंटेलिजेंस ग्रुप सिसको टालोज के शोधकर्ताओं ने पाया है कि एक बेहद सधे हुए उच्चस्तरीय टारगेटेड हमला कर इन लोगों के iPhone को एक संदिग्ध ऐप्लिकेशन की मदद से निशाना बनाया गया है। हालांकि अभी तक इन 13 लोगों की पहचान उजागर नहीं हो सकी है.

सिस्को के विशेषज्ञों को संदेह है कि हमलावर भारत में ही स्थित हो सकता है लेकिन वह खुद को रूस से दिखाने की कोशिश कर रहा है. विशेषज्ञों के अनुसार हमलावर ने रूसी नाम और रूस के ई-मेल डोमेन के नाम का प्रयोग किया है. हमलावार के दो पर्सनल डिवाइस में भारत के वोडाफोन नेटवर्क को प्रयोग किया गया है. टालोस इंटेलीजेंस ब्लॉग पर लिखा है कि हमलावर ने 13 आईफोन का एक्सेस लेने के लिए ओपन सोर्स मोबाइल डिवाइस मैनेजमेंट सिस्टम को तैयार किया है.

टालोस सिक्युरिटी के टेक्निकल लीडर वारेन मर्सर, सिस्को में मॉलवेयर शोधकर्ता और मॉलवेयर विश्लेषक पॉल रस्कागनेरेसे ने कहा कि हमलावर ने व्हाट्सएप और टेलीग्राम जैसे मैसेजिंग एप में अलग से फीचर्स जोड़ने की अलग तकनीक का प्रयोग किया है. इसके बाद टारगेट किए गए 13 आईफोन में MDM द्वारा इन्हें भेजा गया. हमलावर के कोड ने फोन नंबर, सीरियल नंबर, लोकेशन, कॉन्टैक्ट्स, यूजर के फोटो, एसएमएस, टेलीग्राम और व्हाट्सएप चैट में सेंध लगाई है.

पूरी प्लानिंग के साथ किया गया अटैक
लाइनेक्स/ यूनिक्स सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन की ऑनलाइन कम्युनिटी निक्सक्रॉफ्ट टालोज के रिसर्च पर ट्वीट किया कि जिस तरह से पूरी प्लानिंग की गई है और टाइम खर्च किया गया है उसे देखकर यही लगता है कि ये वीवीआईपी के आईफोन हैं. हमलावर ने भारत में केवल 13 आईफोन को ही टारगेट किया है, इससे शक और गहराता है. यह तैयारी पिछले तीन साल से चल रही थी, लेकिन इसके बारे में किसी को जानकारी नहीं लग सकी.

आईफोन की सुरक्षा में सेंध लगाना दुर्लभ मामला
सिक्युरिटी रिसर्चर किरन जोनलगड्डा ने कहा कि इस हमले से यह स्पष्ट है कि आईओएस डिवाइस असुरक्षित है. बहुत से यूजर इस बात से अंजान है. तेलंगाना सीआईडी सुपरिटेंडेंट ऑफ पुलिस यू राममोहन ने एक अखबार से बातचीत में कहा कि आईफोन की सुरक्षा में सेंध लगाना दुर्लभ मामला है. अभी तक आईफोन की सुरक्षा में सेंध लगाने का कोई भी मामला जानकारी में नहीं आया है. अगर ऐसा हुआ भी है तो यह यूजर की गलती के कारण हुआ होगा.

Web Title : IPhone made hacks of 13 VVIPs! Significant data at risk