रिस्क पर है जेट एअरवेज की उड़ाने, प्रभु ने बुलाई बैठक

जेट एयरवेज के खस्ताहाल के चलते इसमें काम करने वाले लोग दिमागी तौर पर तकलीफ में आ गए है................

नई दिल्ली: जेट एयरवेज का अपने विमानों को उड़ान भरने से रोकने और उड़ानों को रद्द करने का सिलसिला जारी है. इस बीच कंपनी के विमान रखरखाव इंजीनियरों के संघ ने अपनी पीड़ा जाहिर की है. संघ ने विमानन क्षेत्र के नियामक नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) और नागरिक उड्डयन मंत्रालय को मंगलवार को सूचना दी कि उन्हें तीन माह से पगार नहीं मिली है और उड़ानों की सुरक्षा जोखिम में है. साथ ही इस मामले में मदद की बात कही है.

                        सरकार ने दिखाई सख्ती,  आपातकाल बैठक के निर्देश

पत्र मिलने के बाद नागरिक उड्डयन मंत्री सुरेश प्रभु ने आपातकाल बैठक बुलाने के निर्देश दिए हैं. बैठक में जेट एयरवेज के अलावा जुड़े एडवांस बुकिंग, कैंसलेशन, रिफंड, सेफ्टी मुद्दों पर भी बैठक होगी.

                                                          ये लिखा ख़त :885qmedo

जेट एयरक्राफ्ट इंजीनियर्स वेलफेयर एसोसिएशन (जेएएमईडब्ल्यूए) ने डीजीसीए को एक पत्र में लिखा है, ‘हमारे लिए अपनी वित्तीय जरूरतों को पूरा करना मुश्किल हो गया है. इसके परिणामस्वरूप विमान इंजीनियरों की मनोवैज्ञानिक स्थिति पर बुरा प्रभाव पड़ा है और यह उनके काम को भी प्रभावित करता है. और ऐसे में देश और विदेश में उड़ान भरने वाले जेट एयरवेज के विमानों की सुरक्षा जोखिम पर है.’

Web Title : rkk