खुबसूरत बनना हो तो ऐसे कीजिये, हरदम रहेंगे तरोताजा

सुन्दरता हर किसी के बूते की बात नहीं है ... लेकिन अगर आप ऐसा करेंगे तो कभी बूढ़े नहीं होंगे... आपका चेहरा ही बोलेगा, वाह उस्ताद ...............

 विटामिन सी को एस्कॉर्बिक एसिड के नाम से भी जाना जाता है. हमारे शरीर में एस्कॉर्बिक एसिड का होना कोशिकाओं एवं पाचन की क्रियाओं के लिए बेहद आवश्यक होता है. विटामिन सी आपकी खूबसूरती को बनाए रखने के साथ आपकी सेहत का भी पूरा ध्यान रखता है. आइए आज इस खास मौके पर जानते हैं कि कैसे विटामिन सी आपकी खूबसूरती को चार चांद लगाने के अलावा सेहत को भी दुरुस्त रखने में आपकी मदद करता है.

                           चेहरे की दमक के लिए जरूरी विटामिन सीImage result for खूबसूरती

                                 झुर्रियों को कम करता विटामिन सीImage result for खूबसूरती

विटामिन ‘सी’ त्वचा में कोलेजन बनाने में मदद करता है. इसकी वजह से आपकी त्वचा में लचीलापन बना रहता है. यदि व्यक्ति के शरीर में विटामिन-सी की कमी हो जाए तो उसकी त्‍वचा समय से पहले लटकने लगती है और चेहरे पर बुढ़ापा जल्दी ही दिखने लगता हैं. विटामिन सी एजिंग की प्रक्रिया को प्राकृतिक रुप से कम करने में आपकी मदद करता है. इतना ही नहीं यह आपके चेहरे की झुर्रियों को कम करने में मदद करता है.

बालों की खूबसूरती के लिए विटामिन सी

Image result for खूबसूरती

बालों को शुष्क होने से बचाने के लिए विटामिन ‘सी’ एक बेहतर विकल्प है. शरीर में विटामिन ‘सी’ की कमी होने से बालों में रूखापन आ जाता है. सिर की त्वचा पर सूखी पपड़ी जमने की वजह से बालों की जड़ें कमजोर हो जाती हैं और बाल गिरने लगते हैं. लेकिन विटामिन सी की मदद से सिर में रक्त-संचार बढ़ता है और बाल लंबे और खूबसूरत बनते हैं.

सन बर्न होने से बचाता है विटामिन सीRelated image

सूरज की तेज धूप आपके चेहरे को झुलसा सकती है. इतना ही नहीं इसकी वजह से व्यक्ति को कैंसर तक का खतरा बना रहता है. लेकिन डाइट में विटामिन सी का उचित सेवन करके आप इस खतरे को टाल सकते हैं.

 

 

 

 

 

 

 

 

Image result for खूबसूरतीएंटीऑक्सीडेंट है विटामिन सी

फ्री रेडिकल्स से बचने के लिये व्यक्ति के शरीर को एंटीऑक्सीडेंट की जरुरत पड़ती है. त्‍वचा को सूरज की तेज किरणों और प्रदूषण से बचाने के लिए यह जरुरी है कि आप विटामिन सी का गर्मियों में सेवन जरूर करें.

सेहत के लिए वरदान है विटामिन सी-

कैंसर -विटामिन-सी एक बेहतरीन एंटीऑक्सीडेंट है जो कैंसर और अन्य बीमारियां पैदा करने वाली फ्री रेडिकल्स से बचाता है. इतना ही नहीं यह शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाकर कैंसर जैसी बीमारी से लड़ने में भी काफी मदद करता है. विटामिन सी कोशिकाओं और डीएनए में होने वाले उस परिवर्तन से भी बचाव करता है जो शरीर में कैंसर पैदा कर सकता है.

हृदय रोग -विटामिन सी में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट तत्व दिल की सेहत बनाए रखने के लिए बेहद फायदेमंद होते हैं. विटामिन सी हृदय संबंधी कई समस्याओं से लड़ने में कारगर हैं. यह धमनियों को क्षतिग्रस्त होने से बचाने के साथ रक्त कोशिकाओं में कोलेस्ट्रॉल जमने से रोकता है. जिसकी वजह से हार्ट अटैक और ब्रेन स्ट्रोक का खतरा कम हो जाता है.

अस्थमा – विटामिन सी, शरीर में अस्थमा के लिए जिम्मेदार हिस्टामाइन के उत्पादन को कम करता है जिसकी वजह से अस्थमा या सांस संबंधी परेशानियों के होने की संभावना कम हो जाती है. विटामिन सी के एंटीऑक्सीडेंट तत्व आपके फेफड़ों की सफाई करने में भी अहम भूमिका निभाते हैं.

जख्म भरना – विटामिन सी एक बेहतरीन हीलर है. विटामिन सी की मदद से त्वचा के घाव जल्दी भर जाते हैं. शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होने की स्थ‍िति में भी यह संक्रमण फैलने और बीमारियों से बचाव करता है.

एलर्जी – विटामिन सी में मौजूद एंटी हिस्टामाइन तत्व एलर्जी से बचाव कर उसके लक्षणों से निजात दिलाते हैं. सर्दी लगने पर आप विटामिन सी का प्रयोग करके अपने शरीर को स्वास्थ्य बनाए रख सकते हैं.

तनाव – विटामिन सी न केवल आपके दिमाग को स्वस्थ रखता है बल्कि यह स्ट्रेस फाइटिंग एड्रिनेलिन हार्मोन का स्त्राव कर आपको तनाव से राहत देता है.

जोड़ों का दर्द – जोड़ों में कोलेजन और काटिर्लेज के क्षतिग्रस्त होने पर, उम्र के बढ़ने या किसी इंफेक्शन की वजह से अगर जोड़ों में दर्द हो रहा हो तो विटामिन सी कोलेजन नामक प्रोटीन का निर्माण करके दर्द से राहत देता है.

                           किस चीज से मिलता है विटामिन सीImage result for फल फ्रूट

खट्टे रसदार फल जैसे आंवला, नारंगी, नींबू, संतरा, बेर, कटहल, शलगम, पुदीना, अंगूर, टमाटर, अमरूद, सेब, केला,मूली के पत्ते, मुनक्का, दूध, चुकंदर, चौलाई, बंदगोभी, हरा धनिया, और पालक विटामिन सी के अच्छे स्रोत हैं.

Web Title : rkk