भारत से दूर इस देश में है एक और अयोध्या, जहाँ नहीं है कोई विवाद

इस अयोध्या में राम नहीं रहे होंगे लेकिन शुकून ऐसा कि मन वहीँ रहने को करता है... यहाँ किसी तरह का फसाद नहीं है बल्कि बड़ा ही मनोहारी वातावरण है....

भारत से दूर विश्व में एक और अध्योध्या नगरी है, जिसे लोग जानते है भी है लेकिन हों सकता हों आप नहीं जानते है.वो शहर है थाईलैंड, जहाँ एक अयोध्या नगरी है। यहां कई सारे हिंदू धर्म से संबंधित मंदिर है। यहां पर भगवान राम की पूजा की जाती है। चलिए आज हम आपके साथ जानते इस नगरी की खूबियाँ।

 थाईलैंड के बारे में आपने बहुत सुना होगा लेकिन ये बात आप तक शायद ही पहुंची होगी. आपको बता दें कि दक्षिण पूर्व एशिया में स्थित थाईलैंड काफी हद तक भारत जैसा ही है। यहां पर हिंदू धर्म से संबंधित कई मंदिर भी है और यही पर बसी है अयोध्‍या नगरी। छोप्रया पालाक एवं लोबपुरी नदियों के बीच में स्थित इस नगरी में भगवान राम की पूजा की जाती है। यह काफी हद तक भारत की अयोध्‍या से ही प्रेरित है। इसलिए इसमें आपको हिंदू धर्म की झलक दिखाई देती है।

थाईलैंड की ये अयोध्या नगरी भगवान राम द्वारा बसाई हुई नहीं है। दरअसल, यहां पर भारत के कुछ तमिल लोग आए थे, जिन्होंने यहां पर हिंदू धर्म का खूब प्रचार किया। जब राजा ने देखा कि यहां पर लोग भगवान राम को ज्‍यादा मान रहे हैं तो वह भी भगवान राम को मानने लगे। इसी के चलते उन्होंने यहां अयोध्‍या नगरी बसाई। अब इस अयोध्‍या नगरी को देखने के लिए टूरिस्ट दूर-दूर से आते हैं।

इस अयोध्या नगरी का मुख्य आकर्षण मंदिर के बीचो-बीच बना प्राचीन पार्क है। इस पार्क में बिना शिखर वाले खंभे, दीवारों, सीढ़ियों एवं भगवान बुद्ध की खूबसूरत प्रतिमाएं टूरिस्ट को अपनी तरफ खींचती है। आपको यहां भगवान बुद्ध की बड़ी-बड़ी मूर्तियां भी देखने को मिलेगी। यहां पर बनी एक मूर्ति के सिर को सैंड स्टोन से बनाया गया है। 

ऐसे में अगर आप थाईलैंड जाते है तो आप इस अयोध्यानगरी का भ्रमण जरुर करना ताकि आपको भारत से दूर भारत की संस्कृति का बेहतरीन नमूना देखने को मिलेगा.

Web Title : rkk