मनमोहन का अमृत, बीजेपी को सताये चिंता

मैदान मारने को उतावली बीजेपी की बातें इसलिए बवाल लगती है क्योंकि कोंग्रेस के मनमोहन पर बीजेपी को चिंता सताये जा रही है.... खुद बीजेपी इस बात को भूला बैठी है कि उसने अरुण जेटली को भी ऐसे ही अमृतसर से उतारा था .... क्या है पूरा मामला, पढ़िए.....

लोकसभा चुनाव की घोषणा के बाद बीजेपी को अमृतसर की चिंता सताने लगी है. दरअसल कांग्रेस अमृतसर लोकसभा सीट के लिए पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के नाम पर विचार कर रही है। वहीं पंजाब बीजेपी अमृतसर के लिए कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मनमोहन सिंह का नाम सामने आने से दुविधा में है। बीजेपी अपने पैनल लिस्ट को रिव्यू कर रही है। बीजेपी ने सवाल दागा है कि यहाँ के लिए मनमोहन का योगदान क्या है कोई ये बताये.

आपको बता दें कि कोंग्रेस ने पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से अमृतसर से लोकसभा चुनाव लड़ने के लिए कहा। बार-बार आग्रह के बावजूद भी मनमोहन सिंह ने तुरंत हामी नहीं भरी है। पिछले लोकसभा चुनाव के दौरान इसी तरह अकाली दल के प्रमुख सुखबीर बादल ने अरुण जेटली को अमृतसर आकर नामांकन भरने के लिए और जीत सुनिश्चित करने के लिए कहा था लेकिन जनता ने उन्हें नकार दिया.

                                                 ऐसे है मनमोहन का अमृतसर: Image result for 1947 amritsarपूर्व प्रधानमंत्री, प्रसिद्ध अर्थशास्त्री मनमोहन सिंह का परिवार विभाजन के समय पाकिस्तान के गाह गांव से अमृतसर में आकर बस गया था। उन्होंने यहां हिंदू कॉलेज से पढ़ाई की। उनकी पार्टी इस बात को बखूबी जानती है कि ऐतिहासिक शहर अमृतसर से ऐसे प्रतिष्ठित सिख उम्मीदवार को चुनावी मैदान में उतारना प्रतीकात्मक रूप से मायने रखता है। देखना देखते है इस बार लोकसभा में दोनों पार्टियाँ क्या गुल खिलाती है.

Web Title : rkk