JNVU छात्रसंघ चुनाव की आपत्तियों पर कड़ी सुरक्षा के बीच हुई सुनवाई, एनएसयूआई कार्यकर्ताओं ने किया प्रदर्शन

जोधपुर। जयनारायण व्यास विश्वविद्यालय में खुले में ग्रीवेंस रिड्रेसल कमेटी द्वारा आपत्तियों पर सुनवाई के खिलाफ भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन (एनएसयूआई) की तरफ से शनिवार को कई संकायों के बाहर नारेबाजी कर प्रदर्शन किया गया। इस दौरान यहां भारी पुलिस जाब्ता भी तैनात किया गया। वहीं छात्रसंघ चुनाव परिणाम में उठे धांधली के आरोपों के बाद केंद्रीय कार्यालय स्थित बृहस्पति भवन में ग्रीवेंस रिड्रेसल सेल के समक्ष आपत्ति दर्ज करवाने वाले प्रत्याशियों की सुनवाई की गई जहां रिड्रेसल सेल के चेयरमैन कमलेश पुरोहित सहित पांच सदस्यों की इस सेल के समक्ष प्रत्याशियों ने अपनी आपत्तियां दर्ज करवाई।

जयनारायण व्यास विश्वविद्यालय में हाल ही में संपन्न हुए छात्रसंघ चुनावों को लेकर राजनीति पूरी तरह गरमा गई है। यहां चुनाव पूरे होने के बाद भी उसका असर अभी तक दिखाई दे रहा है। विभिन्न प्रत्याशियों की आपत्तियों पर विवि की ग्रीवेंस रिड्रेसल कमेटी ने केंद्रीय कार्यालय स्थित बृहस्पति भवन में शनिवार को सुनवाई की। गत 10 सितंबर को हुए छात्रसंघ चुनाव में चार प्रत्याशियों ने यूनिवर्सिटी प्रशासन के समक्ष अपनी-अपनी आपत्ति दर्ज की थी। कमेटी ने छात्रसंघ अध्यक्ष सुनील चौधरी, एबीवीपी अध्यक्ष पद के प्रत्याशी मूलसिंह राठौड़, कमला नेहरू कॉलेज में अध्यक्ष पद की प्रत्याशी रेणुका भाटी और निकिता कड़वासरा को नोटिस जारी कर उपस्थित होने के लिए कहा था।

यह कहा आपत्तियों में
शानिवार को मुख्य रूप से सुनवाई शुरू होते ही सबसे पहले अध्यक्ष पद पर 9 मतों से पराजित हुए अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के अध्यक्ष पद के प्रत्याशी मूलसिंह राठौड़ ने 20 बिंदुओं के साथ कमेटी के समक्ष अपत्ति पेश की। इसमें एक एक बिंदु पर काशी कमेटी ने सुनवाई की वहीं अध्यक्ष पद पर विजय हुए सुनील चौधरी ने भी पराजित प्रत्याशी मूलसिंह के खिलाफ तीन बिंदुओं में आपत्ति पेश की। इसमें मुख्य रूप से आरोप लगाया कि मूलसिंह नकल प्रकरण के साथ ही शिक्षक के साथ अभद्रता के आरोप में विश्वविद्यालय से बर्खास्त हो चुके है। इस आधार पर वह छात्रसंघ चुनाव लडऩे के लिए योग्य नहीं है।

वहीं मूल सिंह ने अपनी आपत्ति में छात्रसंघ चुनाव की मतगणना में धांधली के आरोपों के साथ ही पुन: मतगणना करवाने की मांग की। इस दौरान रिड्रेसल सेल ने मतगणना के दौरान की गई वीडियोग्राफी को भी प्रोजेक्टर पर प्रसारित किया। छात्रसंघ अध्यक्ष के आपत्तियों के बाद कमला नेहरू महिला महाविद्यालय में अध्यक्ष पद के प्रत्याशियों ने भी अपनी आपत्तियां दर्ज करवाई जहां मतगणना की वीडियो रिकॉर्डिंग प्रसारित होने के बाद रिड्रेसल सेल के समक्ष अन्य प्रत्याशियों की सुनवाई की गई।

भारी पुलिस जाब्ता तैनात
जयनारायण व्यास विश्वविद्यालय के केंद्रीय कार्यालय स्थित बृहस्पति भवन में आपत्तियों को लेकर हुई सुनवाई के दौरान पुलिस का भारी जाब्ता तैनात रहा। केंद्रीय कार्यालय पूरी तरह से पुलिस छावनी में तब्दील रहा। यहां बिना आई कार्ड बिना किसी को केंद्रीय कार्यालय में प्रवेश नहीं दिया गया। पुलिस के साथ ही आरएसी के जवान भी तैनात किए गए। पुलिस कमिश्नर आलोक वशिष्ठ भी पूरे मामले को लेकर सुरक्षा व्यवस्था पर निगरानी बनाए हुए थे।

यहां पर हुए प्रदर्शन
एनएसयूआई के कार्यकर्ताओं ने शनिवार को न्यू कैंपस के प्रवेश द्वार को बंद कर नारेबाजी के प्रदर्शन किया। इसके साथ ही कमला नेहरू महिला महाविद्यालय के बाहर भी छात्राओं ने प्रदर्शन किया। हालांकि बंद को लेकर एनएसयूआई की तरफ से किसी तरह की जबरदस्ती नहीं की गई। बंद को देखते हुए विवि के सभी संकायों में पुलिस का भारी जाब्ता तैनात किया गया था।

Web Title : JNVU student hearing over objections raised in tight security