जोधपुर: एसपी राहुल बारहट ने संभाला कार्यभार, कहा-अपराध पर लगाम लगाना रहेगी प्राथमिकता

जोधपुर। आईपीएस अधिकारी राहुल बारहठ मनहर्दन ने गुुरुवार को जोधपुर जिले के ग्रामीण पुलिस अधीक्षक का पदभार संभाल लिया। इस अवसर पर अन्य पुलिस अधिकारियों ने उनका स्वागत किया। इसके साथ ही उन्होंने अधिकारियों से बैठक कर अपराध की घटनाओं पर चर्चा की।

आईपीएस अधिकारी राहुल बारहठ का गत दिनों राज्य सरकार ने जोधपुर ग्रामीण एसपी के पद पर तबादला किया गया था। वे यहां राजन दुष्यंत की जगह आए है। राजन दुष्यंत को कोटा ग्रामीण के पुलिस अधीक्षक के पद पर लगाया गया है। गुरुवार को आइपीएस अधिकारी राहुल बारहठ ने कार्यभार संभाला। इस दौरान उन्होंने मीडिया से अनौपचारिक बातचीत में कहा कि पुलिस मुख्यालय द्वारा जारी की गई प्राथमिकताओं को फॉलो किया जाएगा। इसके साथ ही अपराधों पर लगाम लगाना उनकी प्राथमिकता रहेगी। उन्होंने कहा कि गांवों में कई गैंग पनप गई है। उन गैंगों पर अंकुश लगाकर बदमाशों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। थाना स्तर पर ही शिकायतों का निवारण करने का प्रयास किया जाएगा। इसके साथ ही शराब और अन्य मादक पदार्थों की तस्करी पर भी रोक लगाने के लिए अभियान को तेज किया जाएगा। कार्यभार संभालने के साथ ही नए पुलिस अधीक्षक ने अधीनस्थ अधिकारियों के साथ एक बैठक की और ग्रामीण क्षेत्रों में पनप रहे अपराधों की जानकारी ली।

बता दे कि राहुल बारहठ को नई सरकार बनते ही सीएम के गृह जिले में पोस्टिंग मिलती है। पिछली कांग्रेस सरकार के समय बारहट 9 अगस्त से 11 सितम्बर 2013 तक आरपीटीसी कमांडेट और 14 सितम्बर से 11 जनवरी 2014 तक डीसीपी (पूर्व) के पद पर जोधपुर में कार्यरत रहे। उसके बाद सन् 2014 में भाजपा सरकार आते ही उन्हें तत्कालीन सीएम वसुंधरा राजे के गृह जिले झालावाड में एसपी के पद पर लगाया गया था। अब वापस कांग्रेस की सरकार बनते ही उन्हें मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के गृह जिले में भेजा गया है।

Web Title : Jodhpur: SP Rahul Barhat handled the workload