मोदी श्रीलंका के लिए रवाना, राजनीतिक नजरिये से अहम् है ये यात्रा

मोदी ईस्टर के मौके पर हुए विस्फोटों के बाद श्रीलंका की यात्रा करने वाले किसी अन्य देश के पहले नेता होंगे। नई दिल्ली में विदेश मंत्रालय ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी त्रासदी से उबरने में श्रीलंका सरकार पर अपने भरोसे का संकेत देने और एकजुटता का स्पष्ट संदेश देने के लिए वहां की यात्रा करेंगे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मालदीव से श्रीलंका के लिए रवाना हो चुके हैं और यहां श्रीलंकाई राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरिसेना से बातचीत करेंगे। मोदी ईस्टर के मौके पर हुए विस्फोटों के बाद श्रीलंका की यात्रा करने वाले किसी अन्य देश के पहले नेता होंगे। नई दिल्ली में विदेश मंत्रालय ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी त्रासदी से उबरने में श्रीलंका सरकार पर अपने भरोसे का संकेत देने और एकजुटता का स्पष्ट संदेश देने के लिए वहां की यात्रा करेंगे।

ईस्टर हमले में 250 लोगों की मौत हो गई थी, जिनमें 11 भारतीय थे। यह श्रीलंका में मोदी की तीसरी यात्रा होगी। इससे पहले, उन्होंने 2015 और 2017 में श्रीलंका की यात्रा की थी।

– राष्ट्रपति सिरिसेना के कार्यालय ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कुछ घंटों के लिए रविवार को कोलंबो पहुंचेंगे। पुनर्निर्वाचित भारतीय नेता मालदीव से यहां पहुंचे।

– मोदी पूर्वाह्न 11 बजे यहां पहुंचेंगे और सिरिसेना द्वारा आयोजित आधिकारिक भोज में शिरकत करेंगे और द्विपक्षीय वार्ता करेंगे।

– श्रीलंकाई पुलिस ने बताया कि उसने मोदी की यात्रा के मद्देनजर यातायात संबंधी प्रतिबंधों समेत सुरक्षा के व्यापक प्रबंध किए हैं।

– पाकिस्तान पर परोक्ष हमला बोलते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को राष्ट्र प्रायोजित आतंकवाद मानवता के लिए सबसे बड़ा खतरा बताया और इससे निपटने के लिए वैश्विक नेताओं से एकजुट होने की अपील की।

– मालदीव की संसद ‘मजलिस को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि भारत और मालदीव के संबंध इतिहास से भी पुराने हैं। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ”आज आपके बीच मैं ज़ोर देकर कहना चाहता हूं कि मालदीव में लोकतन्त्र की मजबूती के लिए भारत और हर भारतीय आपके साथ था, है और रहेगा।

Web Title : rkk