पाकिस्तान के आसमान से गुजरेंगे मोदी, इमरान को अब दोस्ती की उम्मीद

भले ही शंघाई सहयोग संगठन (SCO) सम्मेलन के इतर दोनों देशों के प्रधानमंत्रियों की कोई बैठक नहीं होनी है फिर भी पाकिस्तान को उम्मीद है कि भारत उसके शांति प्रस्ताव का सकारात्मक जवाब देगा।

पाकिस्तान ने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को किर्गिस्तान जाने के लिए अपनी हवाई सीमा से गुजरने की अनुमति दे दी है। पीएम मोदी को 13 और 14 जून को किर्गिस्तान के बिश्केक (Bishkek) में होने वाले शंघाई सहयोग संगठन (SCO) सम्मेलन में हिस्सा लेना है। भारत की ओर से पाकिस्तान से गुजारिश की गई है थी कि वह अपनी हवाई सीमा से पीएम मोदी के विशेष विमान को गुजरने की अनुमति दे, जिसे पड़ोसी देश में स्वीकार कर लिया है। खास बात यह है कि इस सम्मेलन में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान भी मौजूद रहेंगे। हालांकि इस दौरान मोदी और इमरान खान की मुलाकात का कोई प्रोग्राम नहीं है।

बता दें कि 26 फरवरी को बालाकोट एयर स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान ने अपना एयरस्पेस पूरी तरह से बंद कर दिया था. इस घटना को 3 महीने से ज्यादा गुजर गए हैं, लेकिन पाकिस्तान ने अबतक मात्र अपने दो एयरस्पेस ही खोले हैं.  ये दोनों एयर स्पेस दक्षिण पाकिस्तान से होकर गुजरते हैं. पाकिस्तान ने अपने हवाई क्षेत्र को कुल 11 भाग में बांट रखा है.Image result for मोदी संग इमरान

एक अधिकारी ने पाकिस्तान सरकार के फैसले की पुष्टि करते हुए बताया, ‘प्रक्रियागत औपचारिकताएं पूरी होने के बाद भारत सरकार को इस फैसले से अवगत करा दिया जाएगा। इसके बाद नागरिक उड्डयन प्राधिकरण को भी अपने वायुकर्मियों को अधिसूचित करने के निर्देश दिए जाएंगे।’

बता दें कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कुछ ही दिन पहले पीएम नरेंद्र मोदी को चिट्ठी लिखी है और दोनों देशों के बीच कश्मीर समेत सारे राजनीतिक मुद्दों को सुलझाने की पेशकश की है. हालांकि भारत ने इस पेशकश का अबतक जवाब नहीं दिया है. भारत शुरू से कहता रहा है कि पाकिस्तान पहले आतंकी संगठनों पर कार्रवाई करे इसके बाद ही किसी भी मुद्दे पर बातचीत हो सकती है.

Web Title : rkk