मध्यप्रदेश चुनाव: CM शिवराज के घर में ही बगावत, साले संजय सिंह ने कांग्रेस का थामा ‘हाथ’

नई दिल्ली/ भोपाल। चुनाव आते ही नेताओं की एक पार्टी से दूसरी में उछलकूद बढ़ जाती है. ऐसे में मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव में भाजपा-कांग्रेस के बीच शह-मात का खेल चल रहा है। इस खेल में कांग्रेस ने आज बड़ा दांव चल दिया है। दिल्ली में पीसीसी चीफ कमलनाथ, ज्योतिरादित्य सिंधिया और प्रदेश प्रभारी दीपक बावरिया की मौजूदगी में सीएम शिवराज सिंह के साले संजय सिंह कांग्रेस में शामिल हो गए हैं। खुद कमलनाथ ने इसका औपचारिक ऐलान किया। इस मौके पर कांग्रेस में शामिल हुए सीएम शिवराज सिंह के साले संजय सिंह ने कहा कि, प्रदेश में बेरोजगारी बढ़ी है। भाजपा में नामदारों को उतारा जा रहा है, वहीं नामदारों को मौका नहीं दिया जा रहा है। पार्टी में वंशवाद फल-फूल रहा है।

उधर कांग्रेस भी अंदरूनी कलह से जूझ रही है, जिसमें सुलह का मोर्चा संभालने के लिए खुद सोनिया गांधी आगे आई हैं। बता दें कि मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए कैंडिडेट्स फाइनल कराने के नाम पर कांग्रेस में आंतरिक भिड़ंत चल रही है। यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी शुक्रवार को पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी व अन्य नेताओं के साथ कांग्रेस कोर कमिटी की बैठक में शामिल हुईं।

बताया जा रहा है कि सोनिया गांधी ने दिग्विजय सिंह और ज्योतिरादित्य सिंधिया से बात भी की। बता दें कि ऐसी खबरें आई थीं कि दिग्विजय सिंह और ज्योतिरादित्य अपने-अपने समर्थकों को टिकट दिलाने के नाम पर बैठक के दौरान ही आपस में भिड़ पड़े। राहुल गांधी भी उस बैठक में मौजूद थे। हालांकि बाद में दिग्विजय सिंह ने इन खबरों को नकारते हुए कहा कि पार्टी एकजुट है। बताया जा रहा है कि संजय सिंह टिकट न मिलने के चलते अपने जीजा और पार्टी से नाराज थे। बता दें कि 28 नवंबर को मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनाव होने हैं।

Web Title : Madhya Pradesh Election: Revolt in CM Shivraj's house