भारत फिर बनेगा ‘सोने की चिड़िया’, राजस्थान की बंजर धरती में मिला करोड़ो टन सोने का भंडार

जयपुर/जोधपुर: भारत एक बार फिर ‘सोने की चिड़िया’ बनने वाला है। भारत में करोड़ो टन सोने का भंडार मिलने की पुष्टि की गई है।राजस्थान में सोने के भंडार का पता चला है। भारतीय भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण विभाग ने राज्य के दो जिलों में सोने और सीसे के भंडार मिलने का दावा किया है। ये पुष्टि वैज्ञानिकों और भूगर्भ शास्त्रियों ने की है। वैज्ञानिकों और भूगर्भशास्त्रियों ने राजस्थान में 11.82 करोड़ टन सोने का भंडार होने की पुष्टि की है। विशेषज्ञों का दावा है कि सोने का यह भंडार ज्यादातर बांसवाड़ा और उदयपुर जिले में स्थित है।677b98e0813e25b2748bdf8e62fda910.jpgराव ने कहा कि तांबा और सोने की खोज को लेकर कार्य प्रगति पर है। यहां इन धातुओं के होने के संकेत मिले थे। धातुओं की खोज सीकर जिले के नीमा का थाना में भी चल रही है। सोना और तांबे के अलावा वैज्ञानिकों को शीश और जस्ता समेत अन्य धातुओं के मिलने के भी संकेत मिले हैं। वैज्ञानिकों की माने तो 3.50 करोड़ टन लेड और जस्ते का भंडार राजपुरा-दारिबा खदान में हो सकता है। भिलवाड़ा में भी धातुओं की खोज का अभियान जारी है। राजस्थान में अब तक 8 करोड़ टन तांबा पाया गया है।dc2779a12864ebceb0cc72b309815a81.jpgआपको बता दें कि पिछले कुछ समय से राजस्थान में तमाम बहुमूल्य धातुओं की खोज की जा रही है। इसमें जिंक, सिल्वर और तांबा आदि प्रमुख हैं। वहीं अब सोने का भंडार मिलने की पुष्टि हुई है। यदि वैज्ञानिकों की बातें सच साबित हुईं तो भारत की अर्थव्यवस्था को नई गति मिलेगी। इससे पहले राजस्थान में तेल और गैस मिलने की भी पुष्टि हो चुकी है। इसके लिए ऐश्वर्या ऑयल फील्ड का उद्घाटन हाल ही में किया गया है।

Web Title : Millions of gold reserves found in the wastelands of Rajasthan