राफेल पर राहुल गांधी का हमला, मोदी-अंबानी ने हमारे सैनिकों पर किया 130,000 करोड़ का ‘सर्जिकल स्ट्राइक’

नई दिल्ली। राफेल डील को लेकर फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद के खुलासे के बाद भारत की राजनीति में भूचाल मचा हुआ है। पिछले कई महीनों से राफेल को मुद्दे को उठा रही कांग्रेस पार्टी पूर्व राष्टट्रपति के बयान के बाद से पीएम मोदी पर हमलावर हो गई है। इसी बीच शनिवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने राफेल विमान सौदे में ‘ऑफसेट साझेदार ’ के संदर्भ में फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद के कथित बयान को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर फिर तीखा हमला बोला और आरोप लगाया कि मोदी और उद्योगपति अनिल अंबानी ने भारतीय रक्षा बलों पर 130,000 करोड़ रुपये की ‘सर्जिकल स्ट्राइक’ की है।

बता दें कि, फ्रांसीसी मीडिया के मुताबिक ओलांद ने कथित तौर पर कहा है कि भारत सरकार ने राफेल विमान सौदे में फ्रांस की विमान बनाने वाली कंपनी डास्सो एविएशन के ऑफसेट साझेदार के तौर पर रिलायंस डिफेंस का नाम प्रस्तावित किया था और ऐसे में फ्रांस के पास कोई विकल्प नहीं था।

आपने देश की आत्मा से विश्वासघात किया शनिवार को राफेल डील पर राहुल गांधी ने कहा- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उद्योगपति अनिल अंबानी ने मिलकर से सुरक्षा बलों पर एक लाख 30 हजार करोड़ रुपये का सर्जिकल स्ट्राइक किया। प्रधानमंत्री मोदी आपने हमारे शहीद सैनिकों के खून का अपमान किया है। आपको शर्म आनी चाहिए, आपने भारत की आत्मा से विश्वासघात किया। राफेल डील को लेकर कांग्रेस शनिवार शाम 3 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस करेगी। कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा है कि परदों के पीछे अब भ्रष्टाचार की सच्चाई नहीं छुप सकती। प्रेस कॉन्फ्रेंस में कई खुलासे किए जाएंगे।

दिवालिया अनिल अंबानी को अरबों डॉलर का सौदा दिलवाया
इससे पहले कल शाम को इस खुलासे के बाद राहुल गांधी ने कहा था कि, ‘पीएम मोदी राफेल डील मामले में व्यक्तिगत रूप से दरवाजे के पीछे से शामिल थें। उन्होनें देश के साथ विश्वासघात किया और सैनिकों के लहू का अपमान किया है। राहुल गांधी ने फ्रांस्वा ओलांद को धन्यवाद देते हुए लिखा कि ‘अब हमें पता चला कि उन्होंने (मोदी) दिवालिया अनिल अंबानी को अरबों डॉलर का सौदा दिलवाया।’

झूठ बोलने वाली सरकार को हम कैसे बर्दाश्त कर सकते हैं?
बीजेपी के बागी नेता यशवंत सिन्हा ने भी मोदी सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने ट्विटर पर लिखा, झूठ बोलने वाली सरकार को हम कैसे बर्दाश्त कर सकते हैं? दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल ने भी किया पीएम मोदी से सवाल किए हैं। केजरीवाल ने कहा कि, प्रधान मंत्री जी सच बोलिए। देश सच जानना चाहता है। पूरा सच। रोज़ भारत सरकार के बयान झूठे साबित हो रहे हैं। लोगों को अब यक़ीन होने लगा है कि कुछ बहुत ही बड़ी गड़बड़ हुई है, वरना भारत सरकार रोज़ एक के बाद एक झूठ क्यों बोलेगी?

Web Title : Modi-Ambani carried out 'Surgical Strike' of 130,000 crore on our soldiers