मोदी के लिये खुले केदार के कपाट, पूजा के बाद गुफा में करेंगे ध्यान

केदार नाथ में पीएम मोदी ने पूजा की है और अब ध्यान भी लगायेंगे.... चुनावों में जनमोर्चा संभालने के अब परिणाम के लिये मोदी बाबा केदार के आगे प्रार्थना भी करने पहुंचे है ....

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दो दिवसीय यात्रा पर शनिवार को देहरादून पहुंचे। राज्यपाल बेबी रानी मौर्य, सीएम त्रिवेंद्र रावत ने उनकी अगवानी की। कुछ देर बाद पीएम मोदी जौलीग्रांट एयरपोर्ट से सेना के हेलीकॉप्टर से केदारनाथ के लिए रवाना हो गए। करीब सुबह नौ बजकर 37 मिनट पर उनका हेलीकॉप्‍टर केदारनाथ में उतरा।  प्रधानमंत्री पूजा अर्चना के लिए केदारनाथ मंदिर के गर्भगृह पहुंचे। इससे पहले उन्होंने सेफ हाउस से मंदिर तक के सफर में तीर्थ पुरोहितों से कुछ देर बातचीत की। पीएम आधा घंटा पूजा अर्चना करेंगे। केदारनाथ गुफा में ध्यान लगाएंगे। इसके बाद पुनर्निर्माण कार्यों का जायजा लेंगे। ये उनका ड्रीम प्रोजेक्ट भी है।पीएम नरेंद्र मोदी ने गढ़वाली पोशाक पहनी हुई है। साथ ही सिर पर हिमाचली टोपी लगाए हुए हैं। पीएम मोदी ने कमर भगवा गमछा बांधा हुआ है। इसके बाद पीएम मोदी मंदिर में घंटा अर्पित किया है।

पीएम मोदी की यात्रा को लेकर श्रद्धालुओं में भारी उत्साह है. गुरुड़चट्टी में साधना के बाद यह पहला मौका है जब मोदी केदारनाथ में ध्यान करेंगे. ग्यारहवें ज्योर्तिलिंग केदारनाथ धाम की ऊंचाई समुद्र तल से 11,700 फीट है. जबकि मंदिर परिसर से डेढ़ किमी दूर बनी ध्यान गुफा की ऊंचाई करीब 12,250 फीट है. हालांकि 18 मई को केदारनाथ और बद्रीनाथ में बारिश होने का अनुमान है. लेकिन इससे पीएम के कार्यक्रम पर कोई असर नहीं पड़ेगा.

2017 में कपाट खुलने के मौके पर पीएम मोदी ने प्रथम भक्त के तौर पर बाबा केदार के दर्शन कर रुद्राभिषेक किया था. उसके बाद से अब वे चौथी बार केदारनाथ आए हैं. 2013 में केदारनाथ में आई आपदा के बाद पुनर्निर्माण पर लगातार उनकी नजर रही है. केदारनाथ के पुनरुत्थान का जिम्मा संभालने के बाद मोदी ने ही केदारनाथ गुफा के पुनर्निर्माण के निर्देश दिए थे. पिछले साल बनकर तैयार गुफा का संचालन इस साल से शुरू हो गया. इस साल महाराष्ट्र के जय शाह के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुफा में रुकने वाले दूसरे भक्त होंगे.

Web Title : rkk