साउथ मिशन पर PM मोदी, आंध्र में जगह-जगह लगे मोदी विरोधी पोस्टर्स से गरमाया माहौल

नई दिल्ली: ‘मिशन 2019’ की तैयारी में जुटे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश के अलग-अलग इलाकों में ताबड़तोड़ रैलियां कर रहे हैं। नॉर्थ-ईस्ट के बाद पीएम की नजर अब दक्षिण भारत पर है और रविवार को वह आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु और कर्नाटक में रैलियां करने वाले हैं। इससे दक्षिण भारत का सियासी पारा गरमा गया है। इस बीच आंध्र प्रदेश के कई शहर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली से पहले मोदी विरोधी पोस्टरों से पटे हुए हैं।

प्रदेश बीजेपी समेत राजनीतिक गलियारों में पोस्टर के चलते हड़कंप मचा हुआ है। कुछ पोस्टरों में लिखा #नो मोर मोदी, #मोदी इज ए मिस्टेक और मोदी नेवर अगेन…। एक पोस्टर में तो आंध्र के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडूपीएम मोदी और अन्य नेताओं पर तीर-धनुष से निशाना साध रहे हैं। बता दें कि तेलुगू देशम पार्टी (टीडीपी) के एनडीए से निकलने के बाद राज्य में यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पहली यात्रा है। नायडू ने इस यात्रा का विरोध करने का सार्वजनिक ऐलान किया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आंध्र प्रदेश के गुंटुर में एक रैली को संबोधित करेंगे। मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने अपने कार्यकर्ताओं को शनिवार को कॉल करके प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दौरे के दौरान गांधीवादी प्रदर्शन करने का आह्वान किया है। एक टेलिकॉन्फ्रेंस के जरिए नायडू ने अपने पार्टी नेताओं से बात करते हुए कहा, ‘यह काला दिन है। पीएम मोदी यह देखने आ रहे हैं कि उन्होंने आंध्र प्रदेश के साथ क्या अन्याय किया है। मोदी राज्यों और संवैधानिक संस्थाओं को कमजोर कर रहे हैं। पीएमओ का राफेल में दखलअंदाजी करना देश का अपमान करना है। हम पीली और काली टीशर्ट और गुब्बारों के साथ शांतिपूर्वक गांधीवादी प्रदर्शन करेंगे।’

बता दें कि आंध्र प्रदेश को विशेष दर्जा देने के समझौते से केंद्र सरकार के इनकार के बाद टीडीपी, बीजेपी की अगुवाई वाली राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) सरकार से अलग हो गई। चंद्रबाबू ने मोदी द्वारा विपक्षी गठबंधन को महामिलावट कहने पर कड़ी आपत्ति जाहिर की। नायडू बीजेपी विरोधी मोर्चा बनाने की कवायद में जुटे हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आंध्र प्रदेश के गुटूर में रैली को संबोधित करेंगे। टीडीपी के एनडीए से निकलने के बाद राज्य में यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पहली यात्रा होगी। पीएम की इस रैली के साथ ही लोकसभा चुनाव को लेकर पार्टी राज्य में प्रचार की शुरुआत करेगी। प्रधानमंत्री की रैली के लिए गुंटूर में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है। प्रधानमंत्री मोदी की सुरक्षा में लगी एसपीजी ने भी रैली स्थल का निरीक्षण किया।

बीजेपी की तमिलनाडु यूनिट भी तिरुपुर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली के लिए तैयार है। इस वर्ष अंतरिम बजट पेश किए जाने के बाद यह मोदी की राज्य की पहली यात्रा होगी। चर्चा है कि बीजेपी-एआईडीएमके के बीच संभावित गठबंधन पर भी मुहर लग सकती है। तमिलनाडु में ओबीसी मोर्चा के अध्यक्ष एसके खरवेंटन ने, ‘एक सरकारी समारोह में भाग लेने के बाद, मोदी एक सार्वजनिक रैली को संबोधित करेंगे, जिसमें 150,000 लोगों के शामिल होने की संभावना है। वह सात लोकसभा क्षेत्रों- ऊटी, कोयंबटूर, पोलाची, इरोड, करूर, तिरुपुर और सालेम स्थित पार्टी के सदस्यों और अन्य लोगों को संबोधित करेंगे।’

प्रधानमंत्री मोदी कर्नाटक के रायचूर में गब्बूर गांव में भी रैली को संबोधित करेंगे। इन दिनों कर्नाटक का सियासी पारा भी गरम है। हाल ही में कर्नाटक के सीएम एचडी कुमारस्वामी ने आरोप लगाया था कि प्रधानमंत्री मोदी और बीजेपी चीफ अमित शाह उनकी सरकार को अस्थिर करने का प्रयास कर रहे हैं। सीएम का दावा है कि बीजेपी ‘ऑपरेशन लोटस’ के जरिए कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन सरकार गिराना चाहती है।
Web Title : Modi Modi on South Mission, anti-Modi posters in place of Andhra