राजस्थान में सहकारी बैंक कर्मियों का नया वेतन समझौता लागू, गहलोत सरकार ने दी मंजूरी

गहलोत सरकार ने सहकारी बैंकों के कर्मियों को 15वें वेतन समझौते का लाभ देने का फैसला किया है। सहकारिता रजिस्ट्रार डॉक्टर नीरज के. पवन ने बताया कि इन बैंकों के कर्मचारियों की वेतन समझौता लागू करने की मांग काफी समय से लंबित थी। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बुधवार को इस आशय की फाइल को मंजूरी दी।

जयपुर: राज्य सरकार ने सहकारी बैंकों के कर्मियों को 15वें वेतन समझौते का लाभ देने का फैसला किया है. बैंको के कर्मचारियों की यह मांग काफी समय से लंबित थी. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कर्मचारियों के हित में यह कदम उठाया है. सहकारिता रजिस्ट्रार डॉक्टर नीरज के. पवन ने बताया कि इन बैंकों के कर्मचारियों की वेतन समझौता लागू करने की मांग काफी समय से लंबित थी. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बुधवार को इस आशय की फाइल को मंजूरी दी.

रजिस्ट्रार, सहकारिता डॉ. नीरज के पवन ने बताया कि सहकारिता मंत्री उदय लाल आंजना ने बैंक कर्मचारियों की 15वें वेतन समझौते की मांग के शीघ्र समाधान का आश्वासन कर्मचारी संगठनों को दिया था. आंजना ने इस सम्बन्ध में मंगलवार को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से मुलाकात कर कर्मचारी को 15वें वेतन समझौते का लाभ देने आग्रह किया था. डॉ. नीरज के. पवन ने बताया कि कर्मचारियों के प्रति सहकारिता मंत्री की संवेदनशीलता के कारण बैंककर्मियों को सालो से लंबित 15वें वेतन समझौते का लाभ मिल पाया है.

उन्होंने बताया है कि सरकार के स्तर पर 15वे वेतन समझौते का अनुमोदन हो चुका है. बता दें कि काफी समय से लंबित 15वां समझौता लागू नहीं होने से सहकारी बैंक अधिकारियों और कर्मचारियों ने बुधवार से धरना प्रदर्शन शुरू किया था और 8 तारीख को जयपुर में महापड़ाव डालने वाले थे. इसके कारण किसानों के ऋण शिविर भी प्रभावित हो सकते थे. ऐसी संभावना के मद्देनजर सरकार ने काफी समय से लंबित 15 समझौता लागू करने की बात मान ली है.

उल्लेखनीय है कि सहकारिता मंत्री उदय लाल आंजना ने सहकारी बैंक कर्मचारियों की 15वें वेतन समझौते की मांग के शीघ्र समाधान का आश्वासन कर्मचारी संगठनों को दिया था. आंजना ने इस सम्बन्ध में मंगलवार को मुख्यमंत्री गहलोत से मुलाकात की थी.

Web Title : New pay agreement for cooperative bank employees in Rajasthan