18 राज्यों की 91 सीटों पर मतदान, इन जगहों पर जमकर हुआ बवाल

लोकसभा चुनाव 2019 के लिए पहले चरण का मतदान आज हुआ। 18 राज्यों और 2 केंद्रशासित प्रदेशों की 91 सीटों पर वोटिंग हुई। सुरक्षा के पुख्ता इंतजामों के बावजूद कई जगहों से हंगामे की खबर आई। कहीं ईवीएम खराब होने की शिकायत आई तो कहीं वोटिंग को लेकर बवाल मचा। कहीं पार्टियों के कार्यकर्ता आपस में भिड़ पड़े तो कहीं आरोप-प्रत्यारोप के दौर भी चले। आंध्र प्रदेश में इस कदर हिंसा हुई कि एक शख्स की मौत हो गई।

वोटिंग के दौरान किस तरह का हंगामा मचा –

उत्तर प्रदेश के कैराना में कुछ लोगों के बिना आईडी के मतदान केंद्र में घुसने की खबर आई। इसके बाद बीएसएफ जवानों को हवाई फायरिंग करनी पड़ी। पूरा मामला कांधला के रसूलपुर गुजरान गांव का है। कैराना में मतदान केंद्र में घुसने पर फायरिंग की खबर पर जिलाधिकारी ने कहा कि बीएसएफ के जवानों ने सुरक्षा कारणों से हवा में गोली चलाई थी। कुछ लोग बिना पहचान पत्र के वोट डालने की कोशिश कर रहे थे। बाद में वोटिंग दोबारा शुरू हो गई है।

आंध्र प्रदेश के पुतलापट्टू सीट पर वाईएसआर कांग्रेस पार्टी और टीडीपी कार्यकर्ताओं के बीच झड़प हुई। इसके चलते पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा। लोकसभा और विधानसभा चुनावों के लिए मतदान के दौरान कई जगहों पर हिंसक झड़प की खबरें आईं। अनंतपुर जिले के ताड़ीपत्री शहर में वाईएसआर और टीडीपी के कार्यकर्ताओं के बीच हुई हिंसक झड़प में टीडीपी नेता एस भास्कर रेड्डी की मौत हो गई। वहीं, बंदरापल्ली के पुथालपट्टू में भी वोटिंग के दौरान वाईएसआरसीपी और टीडीपी के समर्थकों के बीच हिंसक झड़प हुई।

आंध्र प्रदेश में जन सेना विधायक मधुसूदन गुप्ता पर अनंतपुर जिले में एक ईवीएम तोड़ने का आरोप लगा। पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया। आंध्र प्रदेश में विधानसभा चुनाव भी लोकसभा के साथ ही हो रहे हैं।

वहीं, जम्मू कश्मीर में मतदान के दौरान एक बूथ पर मतदाताओं ने जमकर हंगामा किया। मतदाताओं का आरोप है कि पोलिंग बूथ पर मौजूद सुरक्षाकर्मियों ने वोट देने से रोका। इससे बूथ पर मौजूद मतदाता भड़क गए और नारेबाजी करने लगे। वहां मौजूद कुछ लोगों ने इस हंगामे का वीडियो भी बना लिया जिसे पूर्व सीएम महबूबा मुफ्ती ने ट्वीट किया।

नोएडा में ‘नमो’ ब्रांडिंग वाले खाने के पैकेटों पर विवाद छिड़ गया। विवाद बढ़ता देख अतिरिक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी बीआर तिवारी ने कहा है कि हमें मीडिया से इस बात की जानकारी मिली है। ये ‘नमो’ नाम से 10 साल पुरानी दुकान है। ये मीडिया में गलत तरीके से दिखाया गया है।

उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर से भाजपा सांसद संजीव बालियान ने आरोप लगाया कि बुर्का पहनकर वोट डालने आ रही महिला मतदाताओं की जांच नहीं हो रही है। उन्होंने कहा, ‘एक बूथ पर गया तो मैंने देखा कि बहुत अच्छी तरह से चेहरे चेक नहीं किए जा रहे हैं। अगर बुर्के में कोई आता है तो चार बार आए, पांच बार आए, आप चेहरा कैसे चेक करेंगे।’

Web Title : rkk