पचास फीसद स्मार्टफोन मार्केट पर शाओमी व सैमसंग का कब्जा

-मोबाइल फोन ट्रैकर रिपोर्ट 
नई दिल्ली। बीते साल 2018 के दौरान भारतीय स्मार्टफोन मार्केट में दो कंपनियां तेजी से उभरीं। इंटरनेशनल डाटा कॉरपोरेशन (आइडीसी) के ताजा आंकड़ों के मुताबिक चीन की कंपनी शाओमी और दक्षिण कोरियाई कंपनी सैमसंग की संयुक्त हिस्सेदारी करीब 50 फीसद हो गई।
पिछले साल के दौरान शाओमी ने सैमसंग को पछाड़कर भारतीय बाजार की अर्ग्रणी स्मार्टफोन कंपनी का दर्जा हासिल कर लिया। पिछले साल उसने 12.23 करोड़ स्मार्टफोन की सप्लाई करके 28.9 फीसद बाजार पर कब्जा कर लिया। आइडीसी की एशिया पैसेफिक तिमाही मोबाइल फोन ट्रैकर रिपोर्ट के अनुसार बीते साल सैमसंग 22.4 फीसद हिस्सेदारी के साथ दूसरे स्थान पर रही।
आॅनलाइन बिक्री पर जोर
आइडीसी इंडिया की एसोसिएट रिसर्च मैनेजर (क्लाइंट डिवाइसेज) उपासना जोशी ने एक बयान में कहा कि बीते साल ऑनलाइन बिक्री का सबसे ज्यादा जोर रहा। जिन कंपनियों ने इस पर फोकस किया, उनकी बिक्री अच्छी रही। मोबाइल की  ऑनलाइन  बिक्री 38.4 फीसद के रिकॉर्ड पर पहुंच गई। शाओमी इंडिया के मैनेजिंग डायरेक्टर मनु कुमार जैन ने इस रिपोर्ट पर प्रतिक्रिया दी कि कंपनी के 100 फीसद टीम वर्क और मी फैन्स के प्रेम के चलते हमने यह शानदार उपलब्धि हासिल की है।
रिपोर्ट के अनुसार बीते साल की चौथी तिमाही के दौरान शाओमी की बिक्री दूसरे नंबर की कंपनी से 54 फीसद रही।
एपल को उत्साहजनक रेस्पांस नहीं
हाल के महीनों के दौरान उभरते बाजारों खासकर चीन में अनुमान से फीकी बिक्री हासिल करने वाले एपल के आइफोन को भारत में भी कोई उत्साहजनक रेस्पांस नहीं मिला। प्रीमियम स्मार्टफोन सेगमेंट (35,000 रुपये से ज्यादा) की कुल मोबाइल बिक्री में हिस्सेदारी काफी कम सिर्फ तीन फीसद रही। हालांकि दूसरे मूल्य वर्गों में स्मार्टफोन की बिक्री बीते साल में 43.9 फीसद ज्यादा रही। 500-600 डॉलर के सेगमेंट में वनप्लस अपने वनप्लस 6 और हाल में लांच वनप्लस 6टी मॉडल के बूते अर्ग्रणी बनकर उभरी जबकि 700 डॉलर से ज्यादा कीमत के सेगमेंट में सैमसंग ने गैलेक्सी एस9 सीरीज के चलते एपल के आइफोन को पीछे छोड़ दिया।
Web Title : rkk