न्यूज निचोड़: दिन भर की 10 बड़ी खबरों पर एक नजर

केरल के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का पीएम ने किया हवाई दौरा, 500 करोड़ के पैकेज का एलान

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केरल में बाढ़ की विभीषिका की समीक्षा करने के बाद केरल को तत्काल 500 करोड़ रुपये की वित्तीय सहायता देने की घोषणा की है। प्रधानमंत्री कार्यालय ने एक बयान में बताया कि मोदी ने सभी मृतकों के परिजन को दो-दो लाख रुपये की सहायता राशि और गंभीर रूप से घायल लोगों को 50-50 हजार रुपये प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष (पीएमएनआरएफ) से भी देने की घोषणा की है। बयान में कहा गया है, ‘ प्रधानमंत्री ने राज्य को 500 करोड़ रुपये की वित्तीय सहायता देने की घोषणा की है। यह राशि 12 अगस्त को गृह मंत्रालय द्वारा 100 करोड़ रुपये की देने की घोषणा से अलग है।’ कोच्चि में एक उच्च स्तरीय बैठक की समीक्षा के बाद प्रधानमंत्री ने बाढ़ से प्रभावित कुछ क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण किया। बाढ़ की तबाही से जुझ रहे अलुवा-त्रिशुर क्षेत्र के हवाई सर्वेक्षण के दौरान प्रधानमंत्री के साथ राज्यपाल पी सदाशिवम, मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन, केंद्रीय मंत्री के जे अल्फोंस और अन्य अधिकारी मौजूद थे। बाढ़ की वजह से हुई जान-माल की क्षति पर दुख व्यक्त करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि बाढ़ में फंसे लोगों को बाहर निकालना हमारी शीर्ष प्राथमिकता है।

पाकिस्तान के अंतरिम कानून मंत्री ने सुषमा स्वराज से की मुलाकात

पाकिस्तान के अंतरिम कानून एवं सूचना मंत्री सैयद अली जफर ने आज विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मुलाकात की और पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर अपने देश की ओर से संवेदना प्रकट की। अधिकारियों ने बताया कि विदेश सचिव विजय गोखले भी बैठक में मौजूद थे। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट किया की एक दूरदर्शी को याद करते हुए जिन्होंने आतंक-मुक्त और समृद्ध उपमहाद्वीप का सपना देखा। पाकिस्तान के कार्यवाहक कानून एवं न्याय मंत्री सैयद अली जफर ने पूर्व प्रधानमंत्री श्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मिलकर संवेदनाएं प्रकट की। जफर उन विदेशी गणमान्य लोगों में से थे जिन्होंने वाजपेयी की अंत्येष्टि में शिरकत की। हालांकि, बैठक का ब्योरा फिलहाल उपलब्ध नहीं हो पाया है। यह बैठक ऐसे दिन हुई, जब पाकिस्तान की नेशनल एसेंबली ने देश के नए प्रधानमंत्री के रूप में इमरान खान के नाम पर मुहर लगाई है। स्वराज ने वाजपेयी के अंतिम-संस्कार में हिस्सा लेने वाले कई अन्य विदेशी गणमान्य हस्तियों से मुलाकात की।

शपथ ग्रहण के दौरान उर्दू के शब्दों में अटके इमरान, कहा- सॉरी

क्रिकेटर से राजनेता बने पीटीआई चीफ इमरान खान ने शनिवार को पाकिस्तान के 22वें प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली। शपथ के दौरान उस वक्त असहज स्थिति पैदा हो गई जब इमरान उर्दू के कई शब्दों के उच्चारण में न सिर्फ अटके, बल्कि कई शब्द गलत पढ़ गए। राष्ट्रपति भवन ऐवान-ए-सद्र में राष्ट्रपति ममनून हुसैन ने इमरान (65) को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई। पारंपरिक शेरवानी पहने इमरान शपथ ग्रहण के दौरान कुछ नर्वस से नजर आ रहे थे और उर्दू शब्दों के उच्चारण में कई बार अटके। जब राष्ट्रपति हुसैन ने जब ‘रोज-ए-कयामत’ (फैसले का दिन) कहा तो इमरान ने इसे ठीक से सुना नहीं और इसका गलत उच्चारण ‘रोज-ए-कियादत’ (नेतृत्व का दिन) किया। इसने पूरे वाक्य का अर्थ बदल दिया। राष्ट्रपति ने जब शब्द दुहराया तो इमरान को अपनी गलती का अहसास हुआ और मुस्कुराते हुए उन्होंने ‘सॉरी’ कहा और शपथ ग्रहण जारी रखा। शपथ ग्रहण के दौरान इमरान की गलतियों को लेकर सोशल मीडिया पर भी काफी चर्चा हो रही है और कुछ लोग उनका मजाक भी उड़ाते नजर आ रहे हैं।

नहीं रहे नोबेल विजेता कोफी अन्‍नान, भारत से था गहरा नाता

यूनाइटेड नेशंस के पूर्व सेक्रेटरी जनरल (महासचिव) कोफी अन्नान का शनिवार (18 अगस्‍त 2018) को निधन हो गया. वह 80 साल के थे. उनके ट्विटर अकाउंट में सूचना दी गई है कि वह बीमार थे. कोफी अन्‍नान फाउंडेशन की ओर से जारी बयान में उनके निधन पर शोक जताया गया है. मीडिया रिपोर्टों में दावा है कि वह अगले माह भारत आने वाले थे. उनका भारत से गहरा लगाव रहा है. उन्‍हें दुनियाभर में एड्स बीमारी की रोकथाम और युद्ध प्रभावित क्षेत्रों में शांति प्रयासों के लिए जाना जाता रहा है. कोफी अन्नान घाना में पैदा हुए थे. वह एक राजनयिक थे. वह 1962 से 2006 तक संयुक्त राष्ट्र में कार्यरत रहे. वह 1997 से 2006 के बीच संयुक्त राष्ट्र के 7वें महासचिव रहे. उन्हें संयुक्त राष्ट्र के साथ 2001 में नोबेल शांति पुरस्कार से सह-पुरस्कृत किया गया था. कोफी अन्नान का जन्म 8 अप्रैल, 1938 को घाना के कुमसी नामक स्थान में हुआ था.

कांग्रेस पार्टी की मांग, केरल की बाढ़ को राष्ट्रीय आपदा घोषित किया जाए

केरल, बाढ़ और बारिश के कहर से तबाह हो गया है। तबाह केरल के देश के नेता हर संभव मदद की कोशिश कर रहे हैं।
बाढ़ से तबाह करले के लिए कांग्रेस के प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने केरल की बाढ़ को राष्ट्रीय आपदा घोषित करने की मांग की है। रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि केरल में करीब 2000 से 3000 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है। उन्होंने कहा है कि पार्टी यह मांग करती है कि केरल की बाढ़ को राष्ट्रीय आपदा घोषित कर दिया जाए। आपको बता दें की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज केरल में बाढ़ बाढ़ग्रस्त इलाकों का हवाई सर्वेक्षण कर ताजा हालात का जायजा लिया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हवाई सर्वेक्षण के बाद केरल के लिए तत्काल 500 करोड़ रुपये की घोषणा की है। पीएम मोदी ने इसके अलावा बाढ़ पीड़ितों में मरने वालों के रिश्तेदारों के लिए पीएम मोदी दो लाख रुपये मदद की घोषणा की है।

अगले महीने हो सकती है मोदी-इमरान की पहली मुलाकात

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पाकिस्तान के नव-नियुक्त पाकिस्तान इमरान खान की पहली मुलाकात अगले महीने हो सकती है। सितंबर में कजाकिस्तान में शंघाई कॉपरेशन ऑर्गनाइजेशन (SCO) का आयोजन होना है, जिसमें हिस्सा लेने दोनों प्रधानमंत्री दुशांबे जा सकते हैं। अभी आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है। इमरान ने शनिवार को पाकिस्तान के 22वें प्रधानमंत्री की शपथ ली है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पाकिस्तान की नई सरकार मान रही है कि भारत से बातचीत के जरिए संबंध सुधारे जा सकते हैं। इसी दिशा में कदम बढ़ाते हुए पड़ोसी देश ने भारत के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के अंतिम संस्कार में अपने कानून तथा सूचना मंत्री सय्यद अली जफर के नेतृत्व में एक प्रतिनिध दल भेजा था। अंतिम संस्कार के बाद इस दल ने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से बातचीत भी की।

डॉ. ललिताम्बिका के हाथ में होगी इसरो के ‘मानव अंतरिक्ष उड़ान’ की कमान

भारत के रॉकेट प्रोग्राम तैयार करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाली ललिताम्बिका वीआर को देश के ह्यूमन स्पेस फ्लाइट प्रोग्राम का नेतृत्व करने के लिए चुना गया है। स्वतंत्रता दिवस पर पीएम मोदी ने इसरो के महत्वकांक्षी गगनयान मिशन की घोषणा की थी। इसरो ने अपने पहले मानव अंतरिक्ष उड़ान परियोजना की तैयारियां शुरू कर ली है और अगर यह सफल हो जाता है तो अमेरिका, रूस और चीन के बाद भारत चौथा देश बन जाएगा जिसने अंतरिक्ष में मानव को भेजा होगा। इसरो के चेयरमैन के. शिवन ने डॉ. ललिताम्बिका के बारे में बताया कि उनके पास न सिर्फ तकनीकी बल्कि प्रबंधकीय अनुभव भी है। इसरो महिला और पुरुष के बीच कभी भेदभाव नहीं करता है। हम हमेशा उन्हें चुनते हैं जो उस काम के लिए उपयुक्त हैं। हमें अपनी दोनों महिला स​हकर्मी इसके लिए काबिल लगीं। डॉ. शिवन ने जिन दूसरी महिला वैज्ञानिक की बात की वो डॉक्टर अनुराधा टीके हैं जो इसरो के सैटेलाइट कम्युनिकेशन प्रोग्राम का नेतृत्व करने जा रही हैं।

प्रियंका चोपड़ा ने की सगाई की घोषणा, मेहमानों में दिखी सलमान की बहन अर्पिता

आख़िर प्रियंका चोपड़ा ने निक जोनास के साथ सगाई कर ही ली। इन दोनों के रिलेशनशिप के चर्चे पीछे कई दिनों से बॉलीवुड की दुनिया में थे और अब ख़ुद इन्होंने ही इन सभी ख़बरों पर अपने प्यार की मुहर लगा दी है। प्रियंका ने इसकी ऑफिशियल घोषणा करते हुए अपनी एक रोमांटिक तस्वीर पोस्ट की है। आप जानते ही होंगे कि कल ही निक को मुंबई एअरपोर्ट पर अपने पेरेंट्स के साथ देखा गया था और तब से ही इनकी सगाई की ख़बरें आग की तरह फ़ैल रही थीं। निक ने भी वही तस्वीर पोस्ट की है और दुनिया को अपनी होने वाली पत्नी से मिलवाया। प्रियंका और निक ने आज अपने परिवार की मौजूदगी में सगाई कर ली है जिसकी तस्वीरें इन्टरनेट पर वायरल हो रही हैं। वहीं, अब प्रियंका के कुछ करीबी दोस्तों का भी वेन्यू पर आना शुरू हो गया है। आपको बता दें कि सामने आई हैं सलमान ख़ान की बहन अर्पिता ख़ान शर्मा की तस्वीरें जो प्रियंका और निक को बधाई देने पहुंची है।

मॉरीशस का साइबर टावर हुआ अटल बिहारी वाजपेयी टावर

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी अब हमारे बीच नहीं रहे। अब सिर्फ उनकी यादें हीं हमारे साथ हैं। हर किसी ने उनके प्रति अपना सम्मान प्रकट किया। देश ही नहीं बल्कि कई दूसरे देशों के नेता भी उनको अंतिम विदाई देने के लिए भारत आए। मॉरीशस में वाजपेयी जी के सम्मान में देश के सभी सरकारी भवनों में मॉरीशस और भारत के राष्ट्र ध्वज आधे झुके रहे। मॉरीशस के प्रधानमंत्री प्रविंद कुमार जगन्नाथ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर वाजपेयी के निधन पर शोक प्रकट किया और दिवंगत नेता को श्रद्धांजलि अर्पित की। अब उन्होंने वाजपेयी जी के सम्मान में साइबर टावर को अटल बिहारी वाजपेयी टावर नाम देने का ऐलान किया है। पोर्ट लुई में वर्ल्ड हिन्दी कॉन्फ्रेंस के मौके पर प्रविंद कुमार जगन्नाथ ने इसकी घोषणा की है। उन्होंने कहा कि साइबर टावर जिसे मॉरीशस में स्थापित करने में अटल जी ने योगदान दिया था अब से अटल बिहारी वाजपेयी टावर के नाम पर जाना जाएगा। मॉरीशस के पोर्ट लुई में हो रहे वर्ल्ड हिन्दी कॉन्फ्रेंस में प्रधानमंत्री प्रविंद जगन्नाथ और भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज की मौजूदगी में अटल बिहारी वाजपेयी को श्रद्धांजलि अर्पित की गई।

18वें एशियाई खेलों का रंगारंग आगाज, ये है भारत का अबतक का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन

18वां एशियन गेम्स 2018 इंडोनेशिया के जकार्ता और पालेमबांग में शनिवार (18 अगस्त) से रंगारंग आगाज हो गया है, इन खेलों में 45 देशों के 11,000 खिलाड़ी शामिल होंगे। बता दें कि पहली बार एशियन गेम्स का आयोजन 1951 में भारत में हुआ था। तत्कालीन राष्ट्रपति डॉ राजेंद्र प्रसाद ने आधिकारिक तौर पर नई दिल्ली में ध्यान चंद राष्ट्रीय स्टेडियम में इसका उद्घाटन किया था जिसमें 11 राष्ट्रीय ओलंपिक समितियों के कुल 489 एथलीट ने 12 खेलों में भाग लिया था। भारत ने सबसे पहले खेले गए एशियन गेम्स 1951 में दूसरे नंबर पर रहते हुए अबतक का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया है। भारत का सबसे अधिक स्वर्ण पदक: 15 (1951, नई दिल्ली)
भारत का सबसे अधिक रजत पदक: 19 (1982, नई दिल्ली)
भारत का सबसे अधिक कांस्य पदक: 36 (2014, इंचिओन)
भारत का ओवरऑल सबसे अधिक पदक 65 (2010, Guangzhou)एशियन गेम्स का पहला स्वर्ण पश्चिम बंगाल के सचिन नाग ने 100 मीटर फ्रीस्टाइल तैराकी प्रतियोगिता में हासिल किया था।बता दे कि एशियन गेम्स में अबतक भारत 233 पदक अपने नाम कर चुका है जिसमें 72 स्वर्ण, 77 रजत और 84 कांस्य पदक शामिल रहे हैं। एशियन गेम्स 2018 के लिए भारतीय ओलंपिक एसोसिएशन ने 572 एथलीटों (312 पुरुष, 260 महिलाएं) को भेजा है जो 36 खेलों में प्रतिस्पर्धा करेंगे।

Web Title : News Squeeze: A look at 10 big news throughout the day