उपनेता प्रतिपक्ष रमेश मीणा के भाई करौली जिला प्रमुख अभय कुमार मीना को सरकार ने किया सस्पेंड 

फर्जी दस्तावेजों से चुनाव लड़ने का आरोप साबित होने पर कार्रवाई 

जयपुर. फर्जी दस्तावेजों से चुनाव लड़ने के मामले में कार्रवाई करते हुये राज्य सरकार ने करौली जिला प्रमुख अभय कुमार मीना को सस्पेंड कर दिया है। अभय कुमार मीना उपनेता प्रतिपक्ष और सपोटरा विधायक रमेश मीणा के भाई है। विभाग ने आज इस सम्बन्ध में आदेश जारी करते हुये उनके निलम्बन काल में जिला परिषद् के किसी भी कार्य या कार्यवाही में भाग लेने पर रोक लगा दी है। पंचायतीराज विभाग को जिला प्रमुख अभय कुमार मीना के विरुद्ध फर्जी दस्तावेजों के आधार पर चुनाव लड़ने की शिकायत मिली थी जिस पर संभागीय आयुक्त के माध्यम से करौली जिला कलेक्टर द्वारा प्रकरण की जांच करवाई गई।

जांच रिपोर्ट के आधार पर संभागीय आयुक्त ने जिला प्रमुख द्वारा कूटरचित दस्तावेजों का सहारा लिये जाने की बात कही साथ ही उन पर पुलिस में रिपोर्ट दर्ज करवाने और अनुशासनात्मक कार्यवाही की अनुशंषा की गई थी। इस अनुशंषा की पालना में जिला परिषद् सीईओ ने करौली के कोतवाली थाने में जिला प्रमुख के विरुद्ध मामला दर्ज करवाया था जिसके अनुसंधान के बाद पुलिस द्वारा कोर्ट में चार्जशीट भी पेश की जा चुकी है।

जांच रिपोर्ट और पुलिस अनुसंधान में प्रथमदृष्टया आरोप प्रमाणित पाये जाने पर राज्य सरकार ने पंचायतीराज अधिनियम की शक्तियों का प्रयोग करते हुये जिला प्रमुख अभय कुमार मीना को सस्पेंड कर दिया है।

सचिन पायलट का बयान
PCC चीफ सचिन पायलट ने करौली के जिला प्रमुख की सदस्यता समाप्त करने पर कहा-, कि भाजपा सरकार की द्वैषता की राजनीति का परिचायक”, ” कांग्रेस के जनप्रतिनिधियों के खिलाफ कार्यवाही ओछी मानसिकता”, “भाजपा ने उपचुनावों में किया करारी शिकस्त का सामना” , “अब ऐसे हथकण्डे अपनाकर भाजपा मिटा रही बौखलाहट”, “अभय कुमार मीणा के खिलाफ हुई कार्यवाही को दी जाएगी न्यायपालिका में चुनौती”

Web Title : On the termination of the membership of Karauli district chief,