PM मोदी ने राजस्थान को दिया 21000 करोड़ का गिफ्ट, कहा- कांग्रेस नेता सिर्फ नाम के पत्थर लगाते हैं, हम योजनाओं को जमीन पर लाते हैं

जयपुर: राजस्थान की राजधानी जयपुर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 13 अर्बन इन्फ्रास्ट्रक्चर प्रॉजेक्ट्स की नींव रखी. कुल 2100 करोड़ रुपये की योजनाओं में उदयपुर के लिए इंटिग्रेटेड इन्फ्रास्ट्रक्चर पैकेज, अजमेर के लिए एलिवेटेड रोड प्रॉजेक्ट भी शामिल रहे. इसके साथ ही उन्होंने राज्य में चल रहीं अलग-अलग विकास योजनाओं से लाभ पाने वाले करीब 2 लाख लोगों को संबोधित किया.

इससे पहले मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने एयरपोर्ट पर गुलाब का फूल देकर पीएम मोदी का स्वागत किया. वायुसेना के विशेष विमान से उनके सांगानेर हवाई अड्डे पहुंचने पर राजस्थान के राज्यपाल कल्याणसिंह और मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने उनकी अगवानी की. यहां केंद्र व राज्य सरकार की 12 योजनाओं के दो लाख से ज्यादा लाभार्थियों वाली रैली को संबोधित करते हुए पीएम ने कहा- उनकी सरकार 2022 तक किसानों की आय दोगुना करने के लिए प्रतिबद्ध है.

रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जयपुर में कहा कि राजस्थान हमेशा हम सबपर अपना स्नेह बरसाता रहा है. यहां शक्ति और भक्ति का संगम है. राजस्‍थान में सम्‍मान-अपनापन मिलता है. राजस्‍थान तेज गति से काम कर रहा है. राजस्थान सदियों से देश को प्रेरणा देता रहा है. बीते चार सालों में दोगुनी गति से विकास के पथ पर बढ़ा है. केंद्र और राज्य सरकार निरंतर प्रयास कर रही हैं. मुझे 2100 करोड़ से अधिक की योजनाओं का शिलान्यास करने का अवसर मिला है. ये सारे प्रोजेक्ट जीवन को सुगम बनाने वाले हैं.

चार वर्ष पहले की स्थिति आप भूले नहीं होंगे. किन परिस्थितियों में वसुंधरा जी को सरकार की बागडोर मिली थी वह भूलना नहीं चाहिए. नेताओं के नाम पर पत्थर जड़ने की होड़ थी. पीएम मोदी ने कहा कि अब विकास का काम हो रहा है. न चीजें अटकती हैं, न लटकती हैं और न ही भटकती हैं. हमारा एक ही एजेंडा रहा है. वह है विकास. पीएम मोदी ने कहा, अब योजनाएं न लटकती हैं, न भटकती हैं. योजनाों कागजों पर नहीं रहतीं, आम जनता को उसका लाभ पहुंचता है. पहले की सरकारों में नेताओं के नाम पर पत्थर लगाने का काम होता था. राजस्थान में कांग्रेस की सरकारों ने विकास को रोकने का काम किया है. वसुंधरा सरकार ने उसे गति दी है.

मालूम हो, प्रधानमंत्री बनने के बाद जयपुर में मोदी की यह पहली सभा है. पिछले साढ़े चार साल के दौरान मोदी राजस्थान तो आए, लेकिन जयपुर में किसी सभा को संबोधित नहीं किया. जयपुर में उनकी पिछली सभा सितंबर 2013 में हुई थी. उस समय भी मोदी जयपुर से ही राजस्थान में चुनावी शंखनाद कर गए थे.

 

Web Title : PM Modi gives Rs 21,000 crore gift to Rajasthan