राजस्थान में पुलिस कांस्टेबल परीक्षा शुरू, अलर्ट मोड पर सरकार

जयपुर: राजस्थान में शनिवार और रविवार को होने वाली सिपाही भर्ती परीक्षा के दौरान नकल रोकने के उद्देश्य से तमाम शहरों में इंटरनेट सेवाओं पर रोक लगा दी गई है. राज्य भर में होने वाली सिपाही के लिए कुल 14 लाख अभ्यर्थी प्रदेश भर में 664 केंद्रों पर अपनी परीक्षाएं देंगे, जिसके लिए प्रदेश सरकार की ओर से खास इंतजाम किए गए हैं. इसी क्रम राजस्थान पुलिस महकमे में कास्टेबल की सबसे बडी भर्ती को लेकर सरकार अलर्ट मोड पर है.

जानकारी के मुताबिक परीक्षा में नकल या पेपर लीक होने की स्थितियों से निपटने के लिए प्रदेश सरकार ने इंटरनेट बैन किया है। हालांकि सरकार के इस फैसले से लोगों को खासी परेशानी का सामना जरूर करना पड़ रहा है। सरकार के इस फैसले का सबसे ज्यादा असर राजधानी जयपुर में देखने को मिला है। जयपुर में सिपाही भर्ती परीक्षा के लिए कुल 209 सेंटर बनाए गए हैं और इसी कारण यहां इंटरनेट सेवाओं पर रोक लगाई गई है। जयपुर के मंडलायुक्त टी. रविकांत के मुताबिक इंटरनेट सेवाओं को सुबह 8 से शाम 5 बजे तक इंटरनेट सेवाओं को स्थगित करने का फैसला लिया गया है।

परीक्षा से पहले 2 दर्जन संदिग्ध गिरफ्तार
दूसरी ओर पुलिस ने सिपाही भर्ती परीक्षा से पहले करीब 2 दर्जन ऐसे लोगों को शक के आधार पर गिरफ्तार किया है, जिन्होंने कुछ अभ्यर्थियों से पैसे लेकर उन्हें परीक्षा में पास कराने की गारंटी दी थी। गिरफ्तारी के बाद डीजीपी ओपी गल्होत्रा ने कहा कि नकल के रैकेट में शामिल इन सभी को जोधपुर, सीकर, अलवर, भरतपुर, जयपुर और बीकानेर से गिरफ्तार किया गया है। हालांकि इन सभी के पास नकल या परीक्षा से जुड़ी कोई सामाग्री नहीं मिली है और इन सभी ने अभ्यर्थियों को झांसा देकर नकल कराने का झूठा वादा कर उनसे पैसे ऐंठे थे।

मार्च में रद्द करनी पड़ी थी परीक्षा

बता दें कि इससे पहले मार्च महीने में एसओजी द्वारा नकल माफिया के रैकेट के पर्दाफाश करने के बाद राजस्थान में सिपाही भर्ती परीक्षा को रद्द कर दिया गया था। इस परीक्षा के बाद सरकार ने दोबारा तारीखों का ऐलान करते हुए इसके लिए 14 और 15 जुलाई की तारीख तय की थी।

जारी किया गया ड्रेस कोड

अभ्यर्थियों के लिए विशेष गाइडलाइन के साथ-साथ परीक्षा केंद्र पर जैमर और इंटरनेट सेवाओं को बंद करने का निर्णय हुआ है. परीक्षा की सुरक्षा के लिए आरएसी की दस कंपनियों सहित दस हजार से अधिक का जाब्ता तैनात किया गया है. पुलिस महकमे की ओर से महिला और पुरूष दोनों के लिए आवेदन पत्र के साथ ड्रेस कोड जारी किया गया है. अभ्यर्थी को रंगीन पासपोर्ट आकार की नवीनतम दो फोटो, दो पारदर्शी बॉलपेन, फोटो आइडी लानी होगी. महिला अभ्यर्थी किसी तरह के जेवर, ईयरिंग, चेन, अंगूठी आदि पहनकर न आएं. परीक्षा केंद्रों पर मोबाइल फोन और पर्स रखने के लिए कोई व्यवस्था नहीं, नुकसान की जिम्मेदारी अभ्यर्थी की होगी. परीक्षा केंद्रों पर अधीक्षक, परिवीक्षक, कंपनी के प्रतिनिधि समेत 8 हजार लोगों की ड्यूटी रहेगी.

सभी सुबह 7 से शाम 7 बजे तक परीक्षा केंद्रों पर रहेंगे. केंद्र अधीक्षक के पास मोबाइल फोन रहेगा. बता दें कि प्रदेश में 664 केंद्र हैं. परीक्षा दोनों दिन दो-दो पारी में होगी. तीन तरह के परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं. जिन पर 500 से 1000 तक परीक्षार्थी परीक्षा दे सकेंगे. परीक्षार्थियों की तादाद के हिसाब से केंद्रों पर 7 से लेकर 21 पुलिसकर्मी तैनात रहेंगे. हर 4 केंद्र पर एक फ्लाइंग स्क्वायड. 4 स्क्वायड पर एक डिप्टी की निगरानी रहेगी. पेपर के बॉक्स की गाडियां, हथियारबंद पुलिसकर्मी लेकर जाएंगे. उम्मीदवारों का सेलेक्शन ऑनलाइन लिखित परीक्षा, फिजिकल परीक्षा और स्पेशल क्वालिफिकेशन जैसे एनसीसी आदि पर किया जाएगा.

Web Title : Police constable begin examinations in Rajasthan, government on alert mode