मोदी के सामने प्रियंका की उम्मीदवारी पर बोले राहुल गांधी, सस्पेंस बना रहना चाहिए

— मोदी को वाराणसी में घेरने के लिए कांग्रेस चल सकती है अपना ट्रंप कार्ड — प्रियंका के पति राबर्ट वाड्रा ने भी कहा था जनता बदलाव चाहती है और पार्टी ने चाहा तो प्रियंका गांधी नरेन्द्र मोदी के सामने वाराणसी से चुनाव लड़ सकती है

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने वाराणसी सीट पर प्रियंका गांधी के चुनाव लड़ने पर कहा कि मैं न इसकी पुष्टि कर रहा हूं और न ही इससे इनकार कर रहा हूं। सस्पेंस बना रहा रहना चाहिए कई बार सस्पेंस ठीक रहता है। कांग्रेस अध्यक्ष गांधी ने समाचार पत्र द हिंदू को दिए गए इंटरव्यू में यह बात कही। उन्होंने कहा कि मैं आपको सस्पेंस में ही रखना चाहता हूं। हमेशा सस्पेंस बुरा नहीं होता है। राहुल गांधी ने कहा कि मैं न कंफर्म कर रहा हूं और इनकार कर रहा हूं।
मीडिया में खबरें चल रही हैं कि कांग्रेस वाराणसी सीट पर मजबूत उम्मीदवार के तौर पर प्रियंका गांधी को उतार सकती हैं। प्रियंका गांधी को समाजवादी पार्टी, बीएसपी और आरएलडी गठबंधन का साथ मिल सकता है। प्रियंका गांधी पूर्वी उत्तर प्रदेश की पार्टी प्रभारी हैं और उन्होंने पिछले दिनों वाराणसी का दौरा किया था। वाराणसी सीट से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 26 अप्रैल को नामांकन दाखिल करने जा रहे हैं। कांग्रेस ने अभी तक जारी की सूची में वाराणसी सीट पर उम्मीदवार की घोषणा नहीं की है। प्रियंका के पति राबर्ट वाड्रा भी इस संबंध में बयान दे चुके हैं कि प्रियंका मोदी के सामने चुनाव लड़ सकती हैं। गौरतलब है कि प्रियंका ने तीन दिवसीय यात्रा भी प्रयागराज से शुरू करके वाराणसी में समाप्त की थी और खुद भी यहां से चुनाव लड़ने के संकेत दिए थे। हालांकि प्रियंका यहां से चुनाव लड़ती है तो यूपी और बिहार में यह मैसेज जाएगा कि बीजेपी और मोदी के खिलाफ कांग्रेस पार्टी खुद सीधी टक्कर में हैं। इसी के चलते प्रियंका का नाम प्रभावी हो रहा है। इससे पूर्व वाड्रा ने भी कहा था कि जनता भाजपा के शासन से तंग आ चुकी है और वह बदलाव चाहती है। ऐसे में प्रियंका मोदी के सामने चुनाव लड़ सकती हैं। उन्होंने कहा प्रियंका वाराणसी से चुनाव लड़ने को तैयार है, लेकिन इस पर अंतिम मुहर पार्टी को ही लगानी है। हालांकि उत्तरप्रदेश की जिम्मेदारी देते वक्त प्रियंका ने चुनाव लड़ने से इनकार किया था, लेकिन मोदी के विजयी रथ को रोकने के लिए कांग्रेस यह दांव खेल सकती है।प्रधानमंत्री मोदी 26 अप्रेल को वाराणसी से अपना नामांकन दाखिल करेंगे। यदि प्रियंका गांधी यहां से चुनाव लड़ती है तो सभी राजनीतिक पंडितों के साथ—साथ आम जनता की निगाहें इस सीट पर प्रभावी रूप से टिकेंगी।

Web Title : priyanka gandhi against narendra modi what says rahul gandhi