30.9 C
Jodhpur, IN
Friday, March 22, 2019
Home जयपुर ‘वोट तो वोट होवे है, छोरा देवे या छोरी’, इन फिल्मी डायलॉग...

‘वोट तो वोट होवे है, छोरा देवे या छोरी’, इन फिल्मी डायलॉग से वोटर्स को जागरुक कर रही है राजस्थान पुलिस

राजस्थान पुलिस का ट्वीटर अकाउंट आजकल सुर्खियों में हैं। पुलिस फिल्मी डॉयलॉग के जरिए मतदाताओं को वोट देने के लिए लुभा रही है।

नई दिल्ली/जयपुर. राजस्थान चुनाव धीरे-धीरे अंतिम रूप लेता दिख रहा है. तमाम राजनीतिक पार्टियां मतदाताओं को लुभाने में कोई कोर-कसर नहीं छोड़ रही है. वोटरों को पोलिंग स्टेशन तक लाने के लिए चुनाव आयोग और राजनीतिक दल ही मेहनत नहीं कर रहे हैं बल्कि राजस्थान पुलिस भी जमकर मेहनत कर रही है. राजस्थान पुलिस एक-एक वोटर को उनके वोट का अधिकार बताते हुए जागरुक कर रही है. राजस्थान पुलिस ने वोटर्स को जागरुक करने का एक इंट्रेस्टिंग फॉर्मूला अपनाया है. वह अपने सोशल अकाउंट से हिंदी फिल्मों के फेमस डायलॉग से वोटर को आकर्षित करने की कोशिश कर रहे हैं.

पिछले कुछ दिनों से राजस्थान पुलिस पॉपुलर हिंदी फिल्मों के डायलॉग को मैसेज कर रही है, जिसमें फिल्म के स्पेशल कैरेक्ट की फोटो भी शामिल रह रही है. फिल्म करण-अर्जुन में राखी गुलजार का फेमस डायलॉग, ‘मेरे करण अर्जुन जरूर आएंगे, वोट जदेने तो जरूर आएंगे.’ पुलिस आमिर खान की दंगल फिल्म के डायलॉग को भी राजस्थानी में करके लोगों को जागरुक कर रही है. इसमें पुलिस कहती है, ‘वोट तो वोट होवे है, छोरा देवे या छोरी.’ 

फिल्म दंगल का डायलॉग को कुछ इस तरह ट्वीट किया गया है, ‘रे वोट पेड़ पर नही उगते, वोट को बनाना पड़ता है, लगन से, अपने हक का उपयोग मतदान केन्‍द्र पर करने से। राजस्थान चुनाव में वोट तो वोट होवे है, छोरा देवे या छोरी। 7 दिसम्‍बर 2018 को बिना भय एवं लोभ के सही चुने, सभी चुने  और ज़रूर चुने।’'वोट तो वोट होवे है, छोरा देवे या छोरी', इन फिल्मी डायलॉग से वोटर्स को जागरुक कर रही है राजस्थान पुलिस

बता दें कि राजस्थान में 7 दिसंबर को वोट डाले जाएंगे. राज्य में कुल 200 सीटें हैं और 88 पार्टियों ने अपने कैंडिडेट उतारे हैं. चुनाव आयोग के साथ-साथ पुलिस ज्यादा से ज्यादा वोट पड़े इसलिए लोगों को जागरुक कर रही है.

Web Title : Rajasthan Police Is Making Voters Aware From Film Dialogue

Send this to a friend