राजस्थान का सपूत कुपवाड़ा में आतंकी हमले में शहीद, गांव में शोक की लहर

झालावाड़। जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा बलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ हुई झालावाड़ का सपूत मुकुल मीणा शहीद हो गया है। कुपवाड़ा के जंगलों में छिपे आतंकियों की तलाश में सुरक्षाबलों की ओर से फायरिंग हुई में गोली लगने से आर्मी कमांडो मुकुल शहीद हुए हैं। जवान मुकुल के शहीद होने की खबर के बाद लडानियां गांव में सन्नाटा पसर गया। शहीद की सूचना पर झालावाड़ से भी सूचना मिलने पर अतिरिक्त जिला जिला कलेक्टर भवानी सिंह पालावत भी शहीद के गांव पहुंचे व मामले की जानकारी ली।देश सेवा में झालावाड़ के लड़ानिया गांव का  सपूत शहीद

शहीद मुकुल मीणा 2011 में सेना में भर्ती हुए थे, उनका जन्म 1993 में हुआ था। जानकारी के अनुसार जम्मू-कश्मीर में एक बार फिर सुरक्षा बलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ हुई। इस दौरान कुपवाड़ा के जंगलो में छिपे आतंकियों की तलाश में शुरक्षाबलों की ओर से फायरिंग शुरू की गई। आतंकियों से लोहा लेते हुए झालावाड़ का जवान शहीद, गांव में शोक की लहरआतंकियों की जवाबी कार्रवाई और फायरिंग से आर्मी कमांडो मुकुल मीणा शहीद हो गए। उत्तरी कश्मीर के कुपवाड़ा जिले के कांडी जंगल क्षेत्र में सेना का आतंकियों के खिलाफ एनकाउंटर अभियान चल रहा था। सैन्य सूत्रों के अनुसार बुधवार दोपहर कांडी के साडू गंगा जंगल क्षेत्र में आतंकियों से मुकाबले के दौरान कमांडो मुकुल मीणा को गोली लग गई थी जिससे वह गंभीर घायल हो गया था। मुकुल को जंगलों से सुरक्षित निकाल कर दुर्गमुला में सैन्य अस्पताल में पहुंचाया जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

Web Title : Rajasthan's Saput martyr in terrorist attack in Kupwara