यहां आठ शव देखकर मचा कोहराम, एक साथ किया अंतिम संस्कार

अलवर। जिले के बानसूर क्षेत्र के रतनपुरा बालावास गांव में गुरुवार को एक ही परिवार के 8 लोगों के शव पहुंचे तो वहां कोहराम मच गया। इन आठ लोगों की बुधवार को उत्तरप्रदेश में सड़क हादसे में मौत हो गई थी। ग्रामीणों ने नम आंखों से शवों को उतारकर उनका अंतिम संस्कार कर दिया। शवों को देखते ही वहां मौजूद सैकड़ों लोगों के आंखों से आंसू बह निकले। परिवार की कई महिलाओं की तबीयत खराब हो गई। सुबह शवों को गांव लाए जाने के दौरान बड़ी संख्या में वहां ग्रामीण एकत्र थे।एक साथ उठी एक परिवार के आठ लोगों की अर्थी, आंसू नहीं रोक पाए हजारों लोग

शवों के गांव पहुंचते ही परिजनों में कोहराम मच गया। घर के बाहर गमगीन खड़े सैंकड़ों ग्रामीणों की आंखें नम हो गई। इतने बड़े हादसे के बाद लोगों में परिवार को ढांढस बंधाने की भी हिम्मत नहीं बची थी। ग्रामीणों ने गमगीन महौल में शवों को उतारकर धार्मिक प्रक्रियाएं पूरी करवाकर तत्काल सभी शवों को एक साथ श्मशान घाट ले जाकर उनका सामूहिक रूप से अंतिम संस्कार कर दिया।

इस दौरान परिवार की कई महिलाओं की तबीयत बिगड़ गई। वहां मौजूद चिकित्सकों की टीम उनका इलाज कर रही है। अंतिम संस्कार में भाजपा नेता रोहिताश्व शर्मा, पूर्व विधायक महिपाल यादव और एसडीएम बानसूर सहित सैकड़ों लोग मौजूद थे। उल्लेखनीय है कि रतनपुरा बालावास निवासी अनिल की सरकारी नौकरी लगने के बाद गुरुजी को मिठाई देने और आशीर्वाद के लिए परिवार के लोग उत्तर प्रदेश में नीमसार स्थित अशोक दास जी महाराज के आश्रम गए थे। वहां से वापसी में दौरान बुधवार तड़के आगरा एक्सप्रेस-वे पर कन्नौज के समीप बोलेरो की कंटेनर से भिड़ंत हो गई जिसमें 8 लोगों की मौत हो गई थी। घटना की सूचना के बाद गांव में मातम पसर गया था। हादसे से स्तब्ध गांव के घरों में चूल्हे तक नहीं जले।

Web Title : Seeing eight bodies here, Mancha Kohram, together with the funeral