तीर्थ नगरी पुष्कर में सावन के सोमवार पर सेंड आर्टिस्ट की शिव भक्ति, रेतीले धोरो में बनाये मिट्टी से108 शिवलींग

अजमेर/पुष्कर: तीर्थ नगरी पुष्कर में सावन के दुसरे सोमवार को शिव भक्ति का एक अनूठा उदाहरण देखने को मिला है. एकाग्र होकर भगवान को याद कर पुष्कर की मिट्टी के पवित्र रेतीले धोरों पर सेंड आर्टिस्ट अजय रावत ने मिट्टी से 108 शिवलींग बनाये है. मिट्टी के धोरों में अपनी कला का हुनर का लोहा मनवाने वाले कलाकर अजय रावत ने आज सावन के दूसरे सोमवार पर मिट्टी के 108 पार्थिव शिवलिंग बनाकर श्रद्धालुओं की मनोकामना पूर्ण करने के लिए भगवान भोले नाथ खुश होकर मनुष्य की सभी मनोकामनाएं पूर्ण करने के लिए यह अनूठा कार्य किया गया है.

उधर, सुबह से ही मंदिरों में श्रद्धालुओं की भारी भीड़ लगी हुई है. बताया जा रहा है कि मिट्टी के 108 पार्थिव शिवलिंग का पूजन करने से निसंतान मनुष्य संतान प्राप्त कर सकता है. जानकार लोग बताते है कि मिट्टी के 108 पार्थिव शिवलिंग से सबसे पहले एक परिवार के सदस्य शिवलिंग पूजन का संकल्प लेते हैं. उसके बाद शिवलिंग तैयार करके इसकी स्थापना, प्राण प्रतिष्ठा पूजन होता है. इस विधि को ब्राह्मण अपनी देखरेख में करवाते हैं. पूजन में बेलपत्र के पत्ते, फल, फूल, चावल सहित कई जरूरी सामान होते हैं. इसके बाद इसी परिवार द्वारा शिवलिंग को जल में विसर्जित किया जाता है. जिससे मनोकामनाएं पूर्ण होने के साथ-साथ मानसिक तनाव से भी मुक्ति मिलती है.

Web Title : shiva-bhakti-of-sand-artist-on-monday-on-sawan-of-tirth-nagar-pushkar-108-shivalinga-from-mud-made-in-sandy-practices