दुल्हन अपहरण केस: एएसपी देवेन्द्र को सौंपी जांच, सीकर बंद रहा

प्रकरण में जाट समाज ने बुधवार को जांच अधिकारी बदलने और निष्पक्ष जांच की मांग को लेकर सीकर में कलक्ट्रेट पर प्रदर्शन कर जिला कलक्टर और पुलिस अधीक्षक को ज्ञापन सौंपा था और मांग नहीं माने जाने पर आंदोलन की चेतावनी दी थी। उसके बाद गुरुवार को सीकर बंद का आह्वान किया गया था। बंद के आह्वान के चलते आज व्यापारियों ने अपने प्रतिष्ठान नहीं खोले। बंद का व्यापक असर रहा।

सरकार ने जांच अधिकारी बदल जांच सीकर के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक देवेन्द्र शर्मा को सौंपी

खोज खबर
सीकर। दुल्हन अपहरण मामले में सरकार ने जांच अधिकारी बदल दिया है। अब मामले की जांच सीकर के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक देवेन्द्र शर्मा को सौंपी गई है। अब तक मामले की जांच की पुलिस निरीक्षक महावीर सिंह राठौड़ कर रहे थे। आईजी एस.सेंगाथिर ने बताया कि मामले की जांच अब सीकर एएसपी करेंगे। प्रकरण में जाट समाज ने बुधवार को जांच अधिकारी बदलने और निष्पक्ष जांच की मांग को लेकर सीकर में कलक्ट्रेट पर प्रदर्शन कर जिला कलक्टर और पुलिस अधीक्षक को ज्ञापन सौंपा था और मांग नहीं माने जाने पर आंदोलन की चेतावनी दी थी। उसके बाद गुरुवार को सीकर बंद का आह्वान किया गया था। बंद के आह्वान के चलते आज व्यापारियों ने अपने प्रतिष्ठान नहीं खोले। बंद का व्यापक असर रहा।
इंटरनेट बंद : आंदोलन को देखते हुए जिला प्रशासन से गुरुवार को सुबह से शाम पांच बजे तक के लिए सीकर जिले में इंटरनेट सेवाएं बंद रखी। पूरे सीकर शहर में चप्पे-चप्पे पर पुलिस जाब्ता तैनात किया गया। प्रदर्शनकारी सड़कों पर प्रदर्शन करते रह। उल्लेखनीय है कि इस मामले में पहले दुल्हन की बरादमगी और आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए राजपूत समाज ने प्रदर्शन किया था।
पूर्व अधिकारी ने ही लिया बयान : आंदोलन और बंद के बाद जांच अधिकारी बदलने के वाजवजूद भी गुरूवार को पूर्व जांच अधिकारी पुलिस निरीक्षक महावीर सिंह राठौड़ को ही बयान देने पीड़िता पहुंची तो इसको लेकर एक बार फिर हंगामा हो गया। तय कार्यक्रम के अनुसार पीड़िता के बयान गुरूवार को ही होने थे लेकिन जांच अधिकारी बदलने की जानकारी ना होने के चलते पीड़िता पूर्व अधिकारी को ही बयान दे आई।

Web Title : sikar dulhan apharan case sikar investigation news update