टाटा की कंपनी TCS ने रचा इतिहास, बनी 100 अरब डॉलर मार्केट कैप वाली पहली भारतीय कंपनी

नई दिल्ली: आईटी सेक्टर की दिग्गज कंपनी टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (टीसीएस) ने सोमवार को इतिहास रच दिया है।टीसीएस देश की पहली एेसी कंपनी बन गई है जिसका मार्कीट कैप (बाजार पूंजीकरण) 100 अरब डॉलर यानि 6.60 लाख करोड़ रुपए के पार पहुंच गया है। बता दें कि सोमवार को कंपनी के शेयर में 2 फीसदी की बढ़ोतरी हुई। पिछले हफ्ते शुक्रवार को ही कंपनी के शेयर में तेजी दर्ज की गई थी। जिसके बाद सोमवार की सुबह कंपनी का शेयर  3476.75 रुपए पहुंच गया।

वहीं सुबह 9:49 पर कंपनी की बाजार में कीमत 6,62,726.36 करोड़ रुपए पहुंच गई। शुक्रवार को कंपनी ने अपना व्यापार में 40,000 करोड़ रुपए का मुनाफा जोड़ा था। मार्च महीने में मिले तमाम ऑडर के कारण कंपनी को बड़ा फायदा हुआ है। गौरतलब है कि शुक्रवार को हुए फायदे के बाद टीसीएस की मार्केट वैल्यू 100 अरब डॉलर के पास पहुंच गई थी।वहीं सोमावर को शेयर में आए उछाल के बाद कंपनी ने 100 अरब डॉलर के कल्ब में एंट्री कर ली। गौरतलब है कि सोमावर को एशियाई शेयर बाजार में मिलाजुला रुख देखने को मिला।

30 कंपनियों के शेयरों पर आधारित BSE सेंसेक्स 78.11 अंक चढ़कर खुला लेकिन इसमें तुरंत ही गिरावट दर्ज की गई। अब यह 15.24 अंक यानी 0.04 फीसदी घटकर 34,400.34 अंक पर कारोबार कर रहा है। शुक्रवार को सेंसेक्स में 11.71 अंक की गिरावट देखी गई। वहीं निफ्टी 0.27 फीसदी यानी 28.75 अंक सुधरकर 10,592.80 अंक पर खुला है।

वहीं विदेशी पूंजी की निकासी के बीच डॉलर के मुकाबले रुपया आज चार पैसे टूटकर 66.16 पर खुला। यह रुपए में लगातार छठे दिन जारी गिरावट है। शुक्रवार को डॉलर के मुकाबले रुपया 66 के स्तर तक पहुंच गया था जो 13 महीनों का निचला स्तर था। उस दिन रुपया 66.12 पर बंद हुआ था। इसी बीच शुक्रवार को विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने शुक्रवार को 21.02 करोड़ रुपए के शेयरों की बिक्री की है। गौरतलब है कि आईटी कंपनी टाटा कंसलटेंसी सर्विसेज (टीसीएस) ने जनवरी में वित्तवर्ष 2017-18 के लिए भारी-भरकम 700 फीसदी डिविडेंड (1 रुपये के फेस वैल्यू पर 7 रुपए प्रति शेयर) देने की घोषणा की थी। यह रिकार्ड डिविडेंड लगातार तीसरी तिमाही में जारी किया गया था

Web Title : Tata's company TCS created history