राजस्थान के इस 8वीं पास युवक ने जुगाड़ से बनाया आटा चक्की प्लांट, अब गांव में बना चर्चा का विषय

उदयपुर। फिल्म थ्री इडियट्स में आमिर खान की जुगाड़ टेक्नोलॉजी को आप सभी ने देखा होगा, जिसमें आमिर ने 400 से ज्यादा जुगाड़ के आविष्कारों को पेटेंट करवाया था। कुछ इसी तरह से उदयपुर जिले के पलाना कलां गॉंव के युवक बाबूलाल ने भी अपनी जुगाड़ू तकनीक से सभी का दिल जीता है। दरअसल बाबूलाल ने जुगाड़ से आटा चक्की बनाई है, जिससे न केवल एक परिवार को रोजगार मिल गया बल्कि पूरे गांव को भी फायदा हो रहा है। à¤†à¤Ÿà¤¾ चक्की बनाने में इन चीजों का किया इस्तेमाल

दरअसल पलाना कला गांव में इन दिनों जुगाड़ से बना आटा चक्की प्लांट चर्चा का विषय बना हुआ है. जुगाड़ के सामान से मशीनें बनाने में उस्ताद बाबुलाल गायरी ने इस चक्की प्लांट को बनाया हैं जो बिना बिजली के भी काम करता है. फिल्म थ्री इडियट्स के आमिर खान की तरह से पलाना कला गांव के बाबूलाल भी अपनी जुगाड़ तकनीक से सभी का दिल जीत रहे हैं. बाबूलाल ने अनुपयोगी वस्तुओं से एक चक्की प्लांट बना डाला हैं जो बिना बिजली के एक लीटर डीजल में 50 किलो गेंहू पीसने में सक्षम है.एक लीटर डीजल में 50 किलो गेहूं की पिसाई

बता दे कि बाबूलाल ने मांगीलाल गमेती नाम के एक किसान को रोजगार देने के लिए इस जुगाड़ का निर्माण किया है. बाबूलाल ने इंजन, पंखा, गियर बॉक्स, मोटरसाइकिल के तेल की टंकी, नली और बैट्री का जुगाड़ किया और फिर मांगीलाल के खेत पर जुगाड़ के इस चक्की प्लांट को स्थापित कर दिया. बिजली से भी कम खर्च में चलने वाला यह चक्की प्लांट सेल्फ स्टार्ट की सुविधा वाला है जिसे महिलाऍं भी आसानी से संचालित कर सकती हैं. बाबूलाल गायरी की मेहनत से अब मांगीलाल गमेती और उसके परिवार को नया रोजगार मिल गया है. बाबूलाल आगे भी अपनी जुगाड़ तकनीक से कई ऐसी मशीनें बनाना चाहते हैं जो कम खर्चे में ज्यादा मुनाफा देने में सक्षम हो.आर्थिक मदद की दरकरार

आर्थिक मदद की दरकरार
बाबूलाल को गांव में जुगाड़ी के नाम से जाना जाता है। आठवीं तक पढ़े-लिखे बाबूलाल ने आटा चक्की से पहले जुगाड़ तकनीक (Jugaad) से बुवाई मशीन बनाई थी। वो भी किसानों के लिए काफी मददगार साबित हो रही है। बाबूलाल ने बताया कि उसका देसी चीजें से कुछ नया बनाने में दिमाग चलता है। वह मांगीलाल के घर बनाई देसी आटा चक्की जैसे और भी कई बना सकता है, मगर यह तभी संभव हो पाए जब कोई आर्थिक मदद मिले।
Web Title : The flour mill plant made from Jugaad, this young man of Rajasthan, 8 th