विश्व युद्ध की ओर दुनिया, अब सीरिया में मिसाइल गिराकर ट्रंप बोले-मिशन कंप्लीट, जानें पूरा मामला

सीरिया में कथित रासायनिक हथियार वाले इलाकों को निशाना बनाकर सैन्य हमले करने के कुछ ही घंटे बाद अमेरिका, फ्रांस एवं ब्रिटेन ने सीरिया में हुए रसायनिक हमलों की जांच के लिये आज संयुक्त राष्ट्र में नयी मुहिम शुरू की।

अमेरिका और उनके सहयोगियों के शुरू की नई पहल

अमेरिका और उसके दोनों सहयोगी देशों ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में एक संयुक्त मसौदा प्रस्ताव जारी किया। इसमें निर्बाध मानवीय सहायता उपलब्ध कराने, युद्ध विराम लागू करने का आह्वान करते हुए संयुक्त राष्ट्र के नेतृत्व में शांति वार्ताओं में सीरिया के शामिल होने की मांग की गयी है।

यह मसौदा प्रस्ताव दोषियों की पहचान के उद्देश्य से सीरिया में रासायनिक हमलों के आरोपों के संबंध में स्वतंत्र जांच सुनिश्चित करेगा। इससे पहले संयुक्त राष्ट्र के नेतृत्व में जांच के प्रस्ताव को बेअसर करने के लिये नवंबर में रूस तीन बार अपने वीटो का इस्तेमाल कर चुका है। जांच में यह पता चला था कि पिछले साल अप्रैल में सीरियाई बलों ने खान शेखून पर हमलों में नर्व एजेंट सरीन के इस्तेमाल किया था। इसमें रासायनिक शस्त्र निषेध संगठन ( ओपीसीडब्ल्यू ) को यह निर्देश दिया गया है कि वह 30 दिन के अंदर यह रिपोर्ट दे कि सीरिया ने अपने रासायनिक हथियार के जखीरे को पूरी तरह से खुलासा किया है या नहीं।

निक्की हेली ने यूएन में कही बड़ी बात

परिषद को संबोधित करते हुए अमेरिकी दूत निक्की हेली ने कहा कि अमेरिका आश्वस्त है कि सीरिया पर हुए सैन्य हमलों ने उसके रासायनिक हथियार कार्यक्रमों को नुकसान पहुंचाया। वहीं डोनाल्‍ड ट्रंप ने ट्वीट किया कि बीती रात अच्‍छी तरह से एयर स्‍ट्राइक हुआ. फ्रांस और यूके का साथ देने के लिए शुक्रिया. इससे बेहरत परिणाम नहीं हो सकता. मिशन पूरा हुआ।

Web Title : The world towards world war, now in Syria, misses missile trump - Mission Complet