राजस्थान चुनाव: कांग्रेस की तीसरी और आखिरी लिस्ट भी जारी, गठबंधन की पार्टियों को भी मिली सीटें

-तीन उम्मीदवार बदले गए
-यशपाल गहलोत की जगह बीडी कल्ला को मिला मौका
-18 में 5 टिकट गठबंधन को

जयपुर : टिकट को लेकर चल रहे तमाम विरोध के बावजूद कांग्रेस ने रविवार को अपनी तीसरी और आखिरी लिस्ट भी जारी कर दी है. जिसमें कांग्रेस ने टिकट बंटवारे को लेकर चल रहे विरोध को शांत करने की पूरजोर कोशिश की है. कांग्रेस में अपनी तीसरी लिस्ट में 18 उम्मीदवारों की घोषणा की है. जिसमें 3 उम्मीदवारों का टिकट काटकर दूसरे उम्मीदवारों को मौका दिया है. इस सूची के अनुसार, राष्ट्रीय जनता दल और लोकतांत्रिक जनता दल दो-दो सीटों पर चुनाव लड़ेंगे। इसके अलावा एनसीपी एक सीट पर चुनाव लड़ेगी.

जिसमें बीकानेर वेस्ट से यशपाल गहलोत की जगह बी.डी कल्ला, बीकानेर ईस्ट से कन्हईया लाल झाझर की जगह यशपाल गहलोत को मौका दिया है. वहीं SC के लिए सुरक्षित केशोरिपाटन सीट से सी. एम प्रेमी की जगह राकेश बोयात को टिकट दिया गया है. इसके अलावा नोहार से अमित चौहान, खांडेला से सुभाष मिल, तिजारा से ऐमामूद्दीन अहमद खान, किशनगढ़ बास से डॉ. करण सिंह यादव, नागर से मुरारी लाल गुर्जर, किशनगढ़ से नंदराम ठाकन, जैतरण से दिलीप चौधरी, पाली से महावीर राजपुरोहीत, सुमेरपुर से रंजू रामावत और असिंद विधानसभा सीट से मनीष मेवाड़ा शामिल हैं.

आपको बता दे कि कांग्रेस ने अपने गठबंधन सहयोगी राष्ट्रीय लोक दल को मालपुरा और भरतपुर की सीट दी है. वहीं लोकतांत्रिक जनता दल को मुंदावर और खुसालगढ़ की सीट दी है. इसके अलावा एनसीपी को बाली विधानसभा सीट गठबंधन मे मिली है. वहीं कुशलगढ विधानसभा से गठबंधन में दिया लोकतांत्रिक जनता दल के सीट मिली है. इस गठबंधन से कुशलगढ कांग्रेस में भारी विरोध भी चल रहा है. यहां से कांग्रेस के टिकट की दावेदार रमिला खडीया निर्दलीय नामांकन भरने जा रही है.

बता दें कि राजस्थान चुनाव के लिए सोमवार को नामांकन का अंतिम दिन है, इससे पहले कांग्रेस ने राजस्थान विधानसभा चुनाव के लिए 32 उम्मीदवारों की शनिवार को दूसरी सूची जारी की. इस सूची में मानवेन्द्र सिंह का नाम शामिल है. चुनावी मैदान में कांग्रेस ने मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के खिलाफ पिछले मानवेन्द्र सिंह को झालरापाटन विधानसभा सीट पर उतारकर मुकाबले और दिलचस्प बना दिया है. मालूम हो कि वसुंधरा सरकार में निशाने पर रहे पंकज चौधरी की पत्नी मुकुल ने सीएम के खिलाफ चुनाव ल़़डने की ठान ली थी और प्रचार भी शुरूकर दिया था। मानवेंद्र की उम्मीदवारी के बाद अब उनके चुनाव मैदान से हट जाने की उम्मीद है. बता दें कि राजस्थान की 200 विधानसभा सीटों के लिए 7 दिसंबर को वोट डाले जाएंगे। 11 दिसंबर को वोटों की गिनती होगी. इस बार भी मुख्य मुकाबला बीजेपी और कांग्रेस के बीच है. हालांकि, बीएसपी, एसपी सहित अन्य दल भी जोर-शोर से जुटे हैं.

Web Title : Third and last list of Congress released