छुआछूत की शिकार हुई दलित छात्रा, परेशान होकर छोड़ना पड़ा स्कूल

उदयपुर। बीजेपी सरकार के मुखिया और कई केंद्रीय मंत्री भले ही दलित के घर भोजन कर समाज में सबका साथ और सबका विकास को नारा बुलंद करते हों लेकिन कई इलाकों में आज भी छुआछूट ने लोगों का जीना हराम कर रखा है। ताजा मामला उदयपुर के सलूंबर इलाके का है। यहां एक दलित छात्रा को महज इस लिए स्कूल छोड़ना पड़ा क्यों कि उसने स्कूल में बने पोषाहार को छू लिया था।

हालांकि स्कूल प्रबंधन माफी मांगने उसके घर पहुंचा और फिर से स्कूल ले आया। पूरा मामला उथरदा के राजकीय बालिका उच्च प्राथमिक स्कूल का है। यहां एक दलित छात्रा ने पोषाहार को छू लिया था। इसके बाद रसोइया महिला ने पूरा पोषाहार ही फेंक दियाण्। यही नहीं पोषाहार छूने वाली दलित छात्रा को जमकर अपशब्द सुनाए। इस अपमान को छात्रा सहन नहीं कर पाई और स्कूल जाना ही छोड़ दिया। जब स्कूल प्रबंधन को इस बात का पता चला तो छात्रा को वापस स्कूल लाया गया। स्कूल के अध्यापक छात्रा के घर गए और उसके साथ हुए अपमान पर माफी मांगी। इस दौरान इस बच्ची का एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो गया।

इस बच्ची का एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। इस वीडियो में बच्ची अपनी आपबीती सुना रही है। वीडियो वायरल होने के बाद रविवार को मामले ने तूल पकड़ लिया और कई संगठन छात्रा के साथ हुई घटना के विरोध में उतर आए। लोग छात्रा के साथ हुई घटना का विरोध कर रहे हैं और मामले में छोषी के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहे हैं।

Web Title : Untouchable schoolgirl