अहमदाबाद । मौसम विभाग (आईएमडी) ने चक्रवात वायु के असर से गुजरात में भारी बारिश होने का अनुमान लगाया है। मौसम विभाग के मुताबिक इसकी वजह से उत्तर गुजरात और सौराष्ट्र-कच्छ क्षेत्र में सोमवार और मंगलवार को भारी बारिश हो सकती है। वायु के सोमवार की शाम तक गुजरात तट पार करने की संभावना है। आईएमडी ने सौराष्ट्र और कच्छ के कुछ इलाकों के अलावा राजस्थान में सोमवार को भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। वहीं, मंगलवार को उत्तर गुजरात के इलाकों में भारी बारिश की चेतावनी दी गई है। आईएमडी ने फिलहाल यलो अलर्ट जारी किया है। इसका मतलब है कि सौराष्ट्र, कच्छ और राजस्थान के इलाकों में बारिश के अनुमान में कुछ बदलाव हो सकता है। वहीं, गुजरात और राजस्थान के कुछ इलाकों में आॅरेंज अलर्ट यानी तैयार रहने को कहा गया है।
इस बीच चक्रवात वायु की तीव्रता कम होने के साथ ही मॉनसून के आगे बढ?े का भी अनुमान लगाया जा रहा है। चक्रवात धीरे-धीरे उत्तर पूर्व की दिशा में बढ़ेगा और 17 जून की मध्यरात्रि तक कम दबाव के क्षेत्र में उत्तर गुजरात के तट से होकर गुजरेगा। वायु के प्रभाव से राज्य के शेष हिस्सों में भी छिटपुट बारिश हो सकती है। वहीं, मंगलवार को समूचे राज्य में भारी बारिश की संभावना है। मौसम विभाग का कहना है कि सोमवार सुबह वायु उत्तर-पूर्व अरब सागर और उसके आस-पास के क्षेत्र में केंद्रित था। यह नालिया के 280 किलोमीटर पश्चिम-दक्षिण पश्चिम, द्वारका से 260 किलोमीटर पश्चिम-दक्षिण पश्चिम और भुज से 360 किलोमीटर पश्चिम-दक्षिण पश्चिम इलाके में है। कमजोर पड़ चुका वायु उत्तरी गुजरात के तटीय इलाके में सोमवार मध्यरात्रि को टकरा सकता है। आईएमडी की ओर से रविवार शाम को जारी बुलेटिन के मुताबिक चक्रवात पोरबंदर से 490 किलोमीटर, द्वारका से 450 और भुज से 550 किलोमीटर दूर था।