पीपाड़ सिटी। कस्बे में अवैध तरीके से कई दिनों से चल रहे क्रिकेट सट्टे का भंडाफोड़ हो गया। देर रात स्पेशल टीम एवं पुलिस थाना पीपाड़ ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए 2 सट्टेबाजों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से कई संदिग्ध वस्तुएं बरामद की गई। जिला पुलिस अधीक्षक जोधपुर ग्रामीण राहुल बारहट ने बताया कि कस्बा पीपाड़ शहर के शीतला माता मंदिर के पास वार्ड नंबर 7 के अरुण पुत्र चेतन प्रकाश सोनी के रहवासी मकान के ऊपरी मंजिल पर वर्ल्ड कप के भारत पाकिस्तान मैच पर ऑनलाइन सट्टा लगाते अरुण पुत्र चेतन प्रकाश सोनी व नरेंद्र पुत्र बक्साराम को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से 12 मोबाइल, दो ताश की जोड़ी, 2 डीवीडी, 6 एटीएम कार्ड, आधार कार्ड लाइसेंस कार्ड पैन कार्ड सट्टे के हिसाब की कई पन्ने, कई रजिस्टर व डायरिया, खाली चेक, केलकुलेटर, टी वी सट्टा बॉक्स तथा 24 हजार 1सौ 95 रुपये बरामद किए गए।

क्रिकेट सट्टा का तरीका

आरोपियों द्वारा क्रिकेट लाइन गुरु क्रिकेट फैंस तथा डायमंड एक्सचेंज के जरिए व्यक्तियों को अधिकतम लाभ का झांसा देकर लोगों को ऑनलाइन सट्टा खेलने हेतु दुष्प्रेरित कर सट्टा लगवाना। उक्त दोनों व्यक्ति काफी लंबे समय से विभिन्न क्रिकेट मैच यथा आईपीएल, एक दिवसीय, हाल ही में चल रहे वर्ल्ड कप क्रिकेट मैचो पर करोड़ों रुपये का सट्टा लगवाते है। प्रतिदिन लगने वाली सट्टे की राशि का 30 प्रतिशत हिस्सा डायमंड एक्सचेंज द्वारा उक्त दोनों व्यक्तियों को मिल रहा है।

स्थानीय नेटवर्क

उक्त दोनों द्वारा सट्टे का लाभ दिखाकर अपने स्थानीय उपभोक्ताओं विशेषकर युवाओं को इस ओर आकर्षित कर उनसे प्रतिदिन एडवांस राशि जमा कर उनको एक कोड दिया जाकर उनके मोबाइल नंबर रजिस्टर्ड कर लेते हैं। तत्पश्चात जरिए मोबाइल टीम के प्रति सेशन, कुल स्कोर, टीम की हार जीत पर लगाते हैं। इसके लिए आपस में जरीए सोशल मीडिया पर या फोन से सम्पर्क करते हैं।

वारदात का तरीका

अरुण सोनी जो पीपाड़ शहर का सट्टा किंग है जो इतना शातिर व गोपनीय तरीके से कार्य करता है जिसकी भनक नहीं लगने देता है। इसके लिए उनका मकान जो कि सकङी गलियों के रास्ते से होकर गुजरता है जहां बङा वाहन एकदम नहीं आ सकता। अरुण सोनी द्वारा सट्टे की कार्रवाई के दौरान अपने मकान के मुख्य गेट पर ताला लगाकर रखता है तथा दूसरी साइड वाला गेट अंदर से बंद कर मकान के ऊपरी मंजिल पर अपने सहयोगी के साथ सट्टे का कार्य करता है।
किस प्रकार कार्यवाही को दिया अंजाम

पुलिस स्पेशल टीम द्वारा आमसूचना प्राप्त कर पुलिस थाना पीपाड़ सिटी जाब्ता के साथ मोटरसाइकिल व पैदल रेकी कर पहले अरुण सोनी के बारे में संपूर्ण जानकारी हासिल कर उनका डाटाबेस तैयार किया तथा कंफर्म होने के बाद पीछे वाले गेट से प्रवेश कर अपने मित्र के साथ सट्टा लगाते हुए धर दबोचा। अरुण सोनी एवं उनके सहयोगी नरेंद्र ने बताया कि हमारे द्वारा पिछले काफी समय से उक्त सट्टे का कार्य किया जा रहा है इसके द्वारा अभी तक करोड़ों का लेनदेन हुआ है। जिनका लेखा-जोखा इन डायरियो एवं कोपियो में वर्णित है। जिस पर पुलिस थाना पीपाड़ में उक्त दोनों के विरुद्ध आईटी एक्ट धोखाधड़ी व जुआ अधिनियम की विभिन्न धाराओं के तहत प्रकरण दर्ज कर अग्रिम अनुसंधान किया जा रहा है।

यह टीम थी कार्रवाई में शामिल
उक्त कार्रवाई में थानाधिकारी प्रेमदान रतनू, स्पेशल टीम प्रभारी अमानाराम, श्रवणकुमार, देवाराम, जमूराम, चिमनाराम, मोहनराम, सहायक उपनिरीक्षक मलूराम, अशोक, रामनिवास, संजय,श्रवण,शेखर महिला कांस्टेबल सरोज,चालक भागीरथ सहित इत्त्यादि शामिल थे।